Home / Breaking News / नैनीताल:पत्नी के हत्यारोपी की जमानत अर्जी खारिज

नैनीताल:पत्नी के हत्यारोपी की जमानत अर्जी खारिज

नैनीताल। जिला एवं सत्र न्यायाधीश सीपी बिजलवाण की अदालत में अपनी पत्नी की हत्या करने के दोषी पति की जमानत अर्जी खारिज कर दी है। अभियोजन पक्ष के अनुसार 23 दिसम्बर 2017 को रविन्द्र छिमवाल पुत्र भुवन छिमवाल निवासी आवंलाकोट रामनगर ने पुलिस में प्राथमिकी दर्ज करायी की उनकी बहन ममता की शादी 1999 में कानिया रामनगर निवासी सतीश कांडपाल के साथ हुई लेकिन शादी के बाद से ही सतीश ममता के साथ मारपीट करता था। 2003 में उसने ममता को बुरी तरह मारा तब वह मायके आ गई लेकिन बाद में सतीश माफीनामा लिखकर ममता को अपने घर ले आया। 13 दिसम्बर 2017 को सतीश ने पुन: मारपीट की जिससे क्षुब्ध होकर ममता ने उसी रात जहर खा लिया। लेकिन सतीश ने ममता को इलाज के लिये अस्पताल ले जाने के बजाय उसे कमरे में बंद कर दिया। जब 108 एम्बुलेंस सेवा ममता को अस्पताल ले जाने आयी तब भी सतीश ने दरवाजा काफी मन्नतों के बाद खोला और पड़ोसी ममता को इलाज के लिये अस्पताल ले गये। इलाज के दौरान ममता की मौत हो गई। आरोपी की जमानत अर्जी की सुनवाई के दौरान उसकी मां ने भी सतीश कांडपाल को वाहियात किस्म का व्यक्ति बताया। उसके अलावा अन्य गवाहों के आधार पर जिला शासकीय अधिवक्ता सुशील कुमार शर्मा ने जमानत याचिका का विरोध किया। जिसके आधार पर आरोपी की जमानत अर्जी खारिज कर दी गई।

About saket aggarwal

Check Also

मुख्यमंत्री की प्रतिष्ठा से सीधे जुड़ा दून मेयर सीट का चुनाव

मदन मोहन लखेड़ा, देहरादून। निकाय चुनाव की जंग में बीजेपी ने अपने अधिकृत प्रत्याशियों को लेकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *