Home / Breaking News / पौड़ी: खेवनहार ही बने जल संस्थान के बकायादार

पौड़ी: खेवनहार ही बने जल संस्थान के बकायादार

पौड़ी। जिला मुख्यालय पौड़ी में खेवनहार ही जल संस्थान के बकायादार बने हैं। जिलाधिकारी, जल निगम, अपर कृषि निदेशालय, जिला समाज कल्याण अधिकारी, कोतवाली पौड़ी, खंड विकास अधिकारी खिर्सू सहित विभिन्न सरकारी विभागों की जल संस्थान पर 38 लाख से अधिक देनदारी है। वहीं 600 से अधिक उपभोक्ताओं की 65 लाख से अधिक बकाया है। संस्थान बकायादारों को विलंब शुल्क 60 फीसदी छूट दे रहा है। बावजूद इसके सरकारी विभाग की बकाया देने में कोई रुचि ले रहे हैं।
जिला मुख्यालय पौड़ी में जल संस्थान के 852 उपभोक्ता हैं। जिन पर पानी के बिल का एक करोड़ 80 लाख 85 हजार 923 रुपये बकाया है। जिसमें पुलिस लाइन पौड़ी पर तीन लाख से अधिक बिल का बकाया है। जिलाधिकारी निवास, पालिका की बुआखाल स्थित स्कूल, प्रधानाचार्य राप्रावि नंबर-छह पर दो लाख से अधिक का बकाया है। एक लाख से अधिक की देनदारी प्रधानाचार्य राप्रावि नंबर 10, सहायक अभियंता, उपखंड अधिकारी विद्युत, पुलिस थाना पौड़ी, खंड विकास अधिकारी खिर्सू, क्षेत्र विकास अधिकारी खिर्सू पर है। अपर कृषि निदेशालय पौड़ी, प्रधानाचार्य राप्रावि ओजली, विद्युत वितरण खंड बुआखाल, जिला समाज कल्याण अधिकारी, सहायक अभियंता लघु ङ्क्षसचाई, जिलाधिकारी कार्यालय, प्रधानाचार्य राप्रावि नंबर-5, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका पौड़ी, तहसीलदार निवास पौड़ी, पुलिस थाना पौड़ी पर 50 हजार से अधिक देनदारी है। आम उपभोक्ताओं में भी बड़ी संख्या में उपभोक्ताओं पर 80 हजार का बकाया है। जल संस्थान के बकायादारों में सबसे वसूली करने वाले विभाग भी शामिल हैं। जब राजस्व विभाग की जल संस्थान के बकायादार हैं, जल संस्थान के वसूली अभियान पर इसके असर का अंदाजा लगाया जा सकता है। प्रभारी सहायक अभियंता जलकल पौड़ी संजय कुमार ने बताया कि जिला मुख्यालय में करीब 852 उपभोक्ता हैं। जिन पर संस्थान का 1 करोड़, 80 लाख 85 हजार 923 रुपये का बकाया हैं। उन्होंने कहा कि संस्थान बकायादारों को 16 से 28 फरवरी तक बिल के विलंब शुल्क पर 60 फीसदी, एक से 15 मार्च तक 50 फीसदी की छूट दे रहा है।

About saket aggarwal

Check Also

एयरपोर्ट पर नम आंखों से दी मुख्यमंत्री ने शहीद को श्रद्धांजलि

विस अध्यक्ष समेत सैकड़ों लोगों ने किया शहीद की शहादत को सलाम जौलीग्रांट/ब्यूरो। जम्मू-कश्मीर में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *