Breaking News
Home / Breaking News / प्रधानमंत्री मोदी ने देेवभूमि के इतिहास में जोड़ा नया अध्याय

प्रधानमंत्री मोदी ने देेवभूमि के इतिहास में जोड़ा नया अध्याय

राज्य के लिए स्पेशल इकोनॉमिक जोन से काफी ज्यादा महत्वपूर्ण है स्पिरिचुअल ईको जोन

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि उत्तराखंड अलग स्पिरिचुअल ईको जोन है, जो स्पेशल इकोनॉमिक जोन से काफी ज्यादा है। जब वह मुख्यमंत्री थे तो गुजरात को साउथ कोरिया जैसा बनना चाहते थे, क्योंकि दोनों की जनसंख्या समान है, दोनों समुद्री तट पर हैं। दुनिया के कई देशों से हमारे राज्यों की ताकत ज्यादा है। उत्तराखंड हिंदुस्तान को ऊर्जावान बना सकता है। मेक इन इंडिया सिर्फ भारत के लिए ही नहीं, पूरी दुनिया के लिए है।
यहां दो दिवसीय उत्तराखंड इंवेस्टर्स समिट-2018 का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत में चौतरफा परिवर्तन का दौर है। फूड प्रोसेसिंग के मामले में भी आज भारत दुनिया में पहले स्थान पर है। उत्तराखंड में निवेशकों को सरकारी दफ्तरों के चक्कर न काटने पड़े इसके लिए एक पोर्टल चल रहा है। आयुष्मान भारत योजना के तहत 50 करोड़ नागरिकों को हेल्थ बीमा मिल रहा है। अमेरिका, कनाडा की कुल जनसंख्या से ज्यादा यहां के लोगों को फायदा मिल रहा है। यहां रोजगार के लाखों नए अवसर बन रहे हैं। रेलवे लाइन के काम में दोगुनी गति से काम हो रहा है। सरकार 400 रेलवे स्टेशनों को आधुनिकीकरण करने पर काम कर रही है। इस समय देश में 100 नए एयरपोर्ट बनाने पर काम हो रहा है। उत्तराखंड की धरती पर हम सभी ऐसे समय में एकत्रित हुए हैं जब भारत में तेजी से आर्थिक बदलाव हो रहा है। हम नए भारत की ओर बढ़ रहे हैं। आज भारत की अर्थव्यवस्था और स्थिर हुई है। भारत में महंगाई दर नियंत्रण में है। हमारे यहां मिडिल क्लास का प्रसार हो रहा है। स्पीड और स्केल में आर्थिक सुधार हो रहे हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उन्हें पुस्तक भेंट कीं। उन्होंने देवभूमि में इन्वेस्ट करने की उपलब्धियों को गिनाया। इस दौरान सूबे के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत और बड़े-बड़े राजनेता सहित देश के तमाम उद्योगपति मौजूद रहे।
इन्वेस्टर्स समिट के लिए देहरादून पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी का जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत और राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने पुष्प देकर स्वागत किया। प्रधानमंत्री मोदी भारतीय वायुसेना के विशेष विमान द्वारा 10:30 बजे एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर पहले से मौजूद मुख्यमंत्री, राज्यपाल और अन्य लोगों ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। उसके बाद प्रधानमंत्री एयरपोर्ट से वायुसेना के एमआई 17 हेलीकॉप्टर से देहरादून में आयोजित किए जा रहे इन्वेस्टर्स समिट में भाग लेने के लिए रवाना हुए। एक हेलीकॉप्टर में मोदी सवार थे। अन्य दो हेलीकॉप्टर सुरक्षा की दृष्टि से आगे-पीछे उड़ान भर रहे थे। इस दौरान एयरपोर्ट पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रही। मीडियाकर्मियों को भी एयरपोर्ट से काफी दूर रखा गया। पूरा एयरपोर्ट किसी छावनी की तरह दिखाई दिया। सडक़ों और मुख्य मार्गों पर भी पुलिस का सख्त पहरा रहा। एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री के स्वागत के दौरान डीजीपी अनिल रतूड़ी, प्रमुख सचिव उत्पल कुमार आदि उपस्थित रहे। राज्य बनने के बाद ये पहला ऐसा मौका है जब उत्तराखंड में इतना बड़ा आयोजन हो रहा है। प्रदेश में होने वाले इन्वेस्टर्स समिट में देश-विदेश के तमाम बड़े उद्योगपति शिरकत कर रहे हैं। सरकार के दावों पर गौर करें तो अभी तक इन्वेस्टर्स समिट के जरिए प्रदेश में करीब 70 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के एमओयू साइन हो चुके हैं, जो राज्य सरकार के आंकलन से कहीं ज्यादा है। जिससे सरकार उत्साहित है। इसके लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सहित सरकार में तमाम कैबिनेट मंत्रियों ने दूसरे राज्यों में जाकर निवेशकों को लुभाने का खूब प्रयास किया है। राज्य सरकार ने सिंगापुर से लेकर दक्षिण भारत के कई शहरों में जाकर उन्होंने रोड शो का आयोजन कर देवभूमि में निवेश करने की उपलब्धियों को गिनाया। यह भी पहली बार है कि राज्य सरकार ने 12 कोर सेक्टर पर फोकस करते हुए डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट और नए नियमों के जरिये उद्योगों को फूलने-फलने की आधार भूमि तैयार की है।

 

 

 

 

 ‘दैंणा होंया खोली का गणेशा’ से शुरुआत
देहरादून। आज से राजधानी दून में दो दिवसीय इंवेस्टर्स समिट-2018 का शुभारंभ ‘दैंणा होंया खोली का गणेशा…’ गाने के साथ की गई। इस मौके पर कलाकार पारंपरिक परिधानों के साथ प्रस्तुति देते नजर आये। देवभूमि में शुभ कार्य करने से पहले देवताओं को याद किया जाता है। कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए भी देवी-देवताओं को याद किया गया। कार्यक्रम के उद्घाटन के मौके पर देवभूमि की सभ्यता और संस्कृति की झलक देखने को मिली। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

About saket aggarwal

Check Also

गणित को लेकर यूसर्क ने छात्रों में जगाई रुचि

‘मैथेमेटिकल अवेयरनेस अबाउट कोर टाॅपिक्स’ पर कार्यशाला देहरादून। उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केन्द्र (यूसर्क) …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *