Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / पीएम मोदी ने कांग्रेस पर किए जोरदार प्रहार

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर किए जोरदार प्रहार

देहरादून के परेड मैदान में किया जनसभा को संबोधित
बोले, कांग्रेस और करप्शन एक-दूसरे के साथी
कांग्रेस शासन में भ्रष्टाचार एक्सीलेटर पर और विकास वेंटिलेटर पर रहता है
देहरादून। लोकसभा चुनाव की जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को दून में हुंकार भरी। परेड मैदान में उन्होंने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए जमकर शाब्दिक प्रहार किए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में भ्रष्टाचार एक्सीलेटर में और विकास वेंटिलेटर में रहा। उन्होंने चुनावी घोषणा पत्र के साथ ही आतंकवाद, भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी कांग्रेस को घेरा। इस दौरान उन्होंने केंद्र की योजनाएं गिनाई और विकास के पथ पर देश को आगे बढ़ाने के लिए लोगों से सहयोग भी मांगा।
अपने संबोधन की शुरुआत पीएम मोदी ने देवभूमि में बसे सभी देवी देवताओं को नमन करते हुए उत्तराखंड के सभी लोगों केे समर्पण और सहयोग के लिए आभार जताया। उन्होंने कहा कि बाबा केदार के आशीर्वाद से और आपके सहयोग से बीते पांच वर्ष तक देश को विकास के पथ पर आगे बढ़ाने के लिए आपका सेवक सफल हुआ। मेरी प्रेरणा आपकी आस्थाएं रही। मेरे साथ मजबूती से डटे रहे, इसीलिए हमारी सरकार देश हित में अपने बड़े और कड़े फैसले ले पाई।
पीएम मोदी ने कहा कि सामान्य वर्ग के लोगों को 10 प्रतिशत का आरक्षण दे पाए। कांग्रेस तो ढकोसलों से बाहर निकलने की हिम्मत नहीं कर पाई। हमारी सरकार अग्रिम मोर्चों पर बड़ा फैसला ले पाई है। 40 साल से लटका वन रैंक वन पेंशन का मुद्दा हम हल कर पाए। कांग्रेस ने ओआरओपी को 40 साल तक क्यों लटकाए रखा।
पीएम मोदी ने कहा कि आपके सहयोग से मां गंगा को निर्मल व अविरल करने का काम आगे बढ़ पाया है। कांग्रेस ने तो गंगा को मैली करने का काम किया। करप्शन और कांग्रेस का साथ अटूट है, ऐसी जुगलबंदी है कि अलग हो नहीं सकते। मोदी ने कहा कांग्रेस को करप्शन और करप्शन को कांग्रेस चाहिए। कांग्रेस के शासन में भ्रष्टाचार एक्सीलेटर पर और विकास वेंटिलेटर पर रहता है। उन्होंने आगे कहा- यही कांग्रेस की पहचान है।
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने देश की सेना को नहीं छोड़ा। बोफोर्स तोप या हेलीकॉप्टर हो, हथियार का ऐसा सौदा खोजना मुश्किल हो जाता है, जिसमें कांग्रेस सरकार द्वारा कमीशन की बात सामने न आए। आपका ये चैकीदार हेलीकॉप्टर घोटाले के दलालों को दुबई से उठाकर ले आया। पीएम ने करप्शन के साथ कांग्रेस ने देशद्रोहियों और पाकिस्तान को खुश करने का अभियान छेड़ रखा है। पीएम ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को ढकोसला पत्र कहते हुए कहा कि इसे देख साफ हो जाएगा कांग्रेस किसके साथ है। ढकोसला पत्र में कहा यदि सरकार में आएंगे तो सुरक्षा बलों, सेना को जो रक्षा कवच मिला है, उसे हटा देंगे। यदि सेना की रक्षा नहीं करोगे तो कौन मां अपने बेटे को देश के लिए मरने भेजेगी। पीएम ने कहा कि वोट पाने को ये बातें कर रहे हो। लानत है ऐसी राजनीति की। कोई ऐसा पाप नहीं कर सकता है, लेकिन कांग्रेस क्या कर रही है। जान दांव पर लगाने वाले सैनिकों को फर्जी मुकदमों में फंसाती है। पीएम ने कहा, पाकिस्तान से पैसा लेकर जो पत्थरबाजों को भड़काते हैं, ऐसे लोगो से कांग्रेस बातचीत कर रही है। कौन उनका मुंह देखना पसंद करेगा। जो भारत के खिलाफ साजिश रचता है। देशद्रोह का कानून हटाने की बात कर रहे हैं। देशद्रोहियों पर मुकदमे चलने चाहिए। उनको सजा होनी चाहिए या नहीं।
पीएम मोदी ने कहा कुछ लोग यहां ऐसी भाषा बोलते हैं, पाकिस्तान में लोग ताली बजाते हैं। जम्मू कश्मीर में इनके साथी हर रोज कश्मीर को अलग करने की धमकी दे रहे हैं। वो कश्मीर का अलग प्रधानमंत्री चाहते हैं। पीएम मोदी ने सवाल किया कि देश में दो प्रधानमंत्री होंने चाहिए क्या? कहा, जम्मू कश्मीर के लिए देश के वीर जवानों ने अपनी जान दी, सर्वोच्च बलिदान दिया। हिंदुस्तान के गरीब लोगों ने अपना पेट काटकर वहां की भलाई के लिए पैसे दिए है। वो दो प्रधानमंत्री की बात कर रहे हैं। ये कांग्रेस पार्टी के गठबंधन के साथी हैं। कांग्रेस चुप है। पीएम ने कहा, मैं हैरान हूं कांग्रेस अपने साथियों की मदद के लिए ही देशद्रोह का कानून हटाना चाहती है। भारत की एक इंच जमीन पर भी आंच नहीं आने दी जाएगी। पीएम ने कहा मैं शहीद मोहनलाल, शहीद वीरेंद्र सिंह राणा, शहीद चित्रेश बिष्ट और शहीद विभूति ढौंडियाल की शपथ लेकर कहता हूं कि देश को बांटने वालों के सामने चैकीदार दीवार बनकर खड़ा है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, हमने पांच लाख की टेक्सेबल इंकम को पूरी तरह जीरो किया। कहा, जरा सी चूक हुई तो ये छूट तो जाएंगी ही और आप पर बोझ पड़ना भी तय है। भाजपा की सोच स्पष्ट है। कांग्रेस ने पहाड़ को पलायन से जोड़ा है और हमने पहाड़ को पर्यटन से जोड़ने का काम कर रहे हैं।

About madan lakhera

Check Also

भगतदा बने महाराष्ट्र के राज्यपाल

दिल्ली/हल्द्वानी। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी को महाराष्ट्र के राज्यपाल के पद पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *