Breaking News
Home / Breaking News / बवाल के बाद अगस्त्यमुनि में पुलिस का फ्लैग मार्च

बवाल के बाद अगस्त्यमुनि में पुलिस का फ्लैग मार्च

रुद्रप्रयाग। सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट पर अगस्त्यमुनि में मचे बवाल के बाद स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। प्रशासन ने पूरे रुद्रप्रयाग तहसील क्षेत्र में धारा-144 लागू कर दी गयी है। पुलिस शनिवार को अगस्त्यमुनि समेत प्रमुख कस्बों में फ्लैग मार्च किया। लेागों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की। डीएम मंगेश घिल्डियाल और एसपी पीएन मीणा पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। पौड़ी, चमोली और टिहरी जिले के अतिरिक्त पुलिस फोर्स रुद्रप्रयाग बुलाई गई है। पूरा अगस्त्यमुनि बाजार छावनी में तब्दील हो गया है। पुलिस के जवानों की कदमताल से लोग भी सहमे नजर आ रहे हैं।
बीते गुरुवार शाम को सोशल मीडिया पर किसी व्यक्ति ने अगस्त्यमुनि को लेकर एक आपत्तिजनक पोस्ट डाल दी थी। यह फेक न्यूज वायरल हो गयी। देखते ही देखते कुछ छात्र और स्थानीय लोग थाने में जाकर पुलिस से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। यह अफवाह फैलाई गई कि युवती से किसी दूसरे समुदाय के युवकों ने रेप किया है। जबकि पुलिस प्रशासन के अफसरों का कहना है कि ऐसी कोई घटना ही नहीं हुई है। ये फेक खबर वायरल हो गई और शुक्रवार सुबह तक मामला आग की तरह फैल गया। शुक्रवार सुबह गंगानगर, विजयगनर और अगस्त्यमुनि में अराजकतत्वों समुदाय विशेष की दुकानों पर जमकर तोडफ़ोड़ की। करीब 15 दुकानों में तोडफ़ोड़ की गई। कई कई जगह दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया, बाइक भी फूंकी गई थी। शनिवार को अगस्त्यमुनि के साथ ही रुद्रप्रयाग, गुप्तकाशी और ऊखीमठ में बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात हैं। अगस्त्यमुनि, गुप्तकाशी, ऊखीमठ, रुद्रप्रयाग आदि स्थानों पर पुलिस ने गश्त कर रही है। पुलिस फ्लैग मार्च निकाल रही है और लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की बात कह रही है।

About saket aggarwal

Check Also

पांच वर्ष की बच्ची के साथ दुष्कर्म के आरोपी को जेल भेजा

डोईवाला/ब्यूरो। कोतवाली पुलिस ने पांच वर्ष की बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *