Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Bageshwar / बागेश्वर : पौराधिक आस्था का केन्द्र है उत्तरायणी मेला

बागेश्वर : पौराधिक आस्था का केन्द्र है उत्तरायणी मेला

बागेश्वर। ऐतिहासिक, पौराणिक एवं धार्मिक उत्तरायणी मेले का आगाज हो गया है, मेले का शुभारम्भ प्रदेश के वित्त मंत्री प्रकाश पंत एवं केन्द्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया।
उद्घाटन समारोह के अवसर पर उपस्थित जनता को सम्बोधित करते हुए वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि यह मेला सांस्कृतिक, ऐतिहासिक, पौराणिक एवं धार्मिक आस्था का प्रतीक है। जिसमें लोग पुण्य अर्जित करने के लिए बाबा बागनाथ की धार्मिक स्थली पर एकत्र होते हैं। उन्होंने कहा कि इन मेलों से आपस में भाईचारे व मेल मिलाप को बढ़ावा मिलता है। इसमें जो भी हमारे धार्मिक एवं ऐतिहासिक मेले हैं उनके सफल आयोजन के लिए सरकार द्वारा सहायता मुहैया कराये जाने हेतु वे अपने स्तर से भरपूर प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार कुटीर एवं लघु उद्योगों को बढ़ावा दे रही है जिसके लिए बेरोजगार युवाओं को अपना रोजगार उपलब्ध कराने के लिए ऋ ण उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में समाज में मूलभूत अन्तर को कम करने का प्रयास किया जा रहा है जिसके लिए प्रधानमंत्री द्वारा गरीब के घर में भी गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने के लिए अमीर व्यक्तियों से अपनी सब्सिडी छोडऩे को कहा गया जिसके अन्तर्गत सम्पन्न व्यक्तियों ने लगभग 60 हजार करोड़ की सब्सिडी छोड़ी जिसके माध्यम से हर गरीब मां एवं बेटी के घर में गैस कनेक्शन उपलब्ध कराने का प्रयास किया गया। कहा सरकार का उद्देश्य 2022 तक उत्तराखण्ड के प्रत्येक परिवार को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना है। कहा आयुष्मान भारत योजना में उत्तराखण्ड के 23 लाख परिवार हंै जिसमें से 5 लाख परिवारों को इस योजना से लाभान्वित करने के लिए चयनित किया गया है। शेष परिवारों को योजना का लाभ उपलब्ध कराने के लिए उत्तराखण्ड राज्य में अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना लागू की जा रही है जिसके माध्यम से 18 लाख वंचित परिवारों को इस योजना से परिवार के 5 सदस्यों को 5 लाख तक नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायेगी, जिसमें 190 चिकित्सालयों में अपना पंजीकरण करा सकते हैं। इससे प्रत्येक गरीब व्यक्ति अपना इलाज आसानी से करा सकता है। इस अवसर पर उन्होंने बाबा बागनाथ से प्रार्थना की कि उत्तराखण्ड प्रदेश खुशहाल समृद्ध एवं स्वस्थ रहे। केन्द्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा ने कहा कि यह मेला हमारा धार्मिक एवं आस्था का प्रतीक है। इस मेले को सफल बनाने में सभी की भागीदारी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य देवभूमि है जिसमें हमारे चारधाम प्रसिद्ध हैं जिसमें करोड़ों दर्शनार्थी दर्शन करने आते हैं। उन्होंने कहा कि हमें पूरे उत्तराखण्ड में 12 धामों को निर्माण करना है जिसमें बैजनाथ धाम, गोलू धाम, मोस्तमानों धाम, पूर्णागिरि, नैना देवी आदि धामों को विकसित किया जाना है जिससे उत्तराखण्ड की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी तथा उत्तराखण्ड से हो रहे पलायन को भी रोका जा सकेगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार को देश की सवा सौ करोड़ जनता की चिन्ता है जिसके विकास एवं उन्नति के लिए सरकार कई योजनायें संचालित कर रही है तथा उत्तराखण्ड में लघु उद्योगों के माध्यम से बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा उत्तराखण्ड के चारों धामों के लिए आलवैदर रोड का निर्माण किया जा रहा है इस योजना के अन्तर्गत कैलाश मानसरोवर को भी शामिल किया गया है जो कि उत्तराखण्ड के लिए एक मील का पत्थर साबित होगा। इस अवसर पर अध्यक्ष नगरपालिका सुरेश खेतवाल ने उत्तरायणी मेले के ऐतिहासिक एवं पौराणिक महत्व पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डालते हुए इसकी महत्ता के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि इस धार्मिक मेले में सभी का सहयोग जरूरी है तभी इस मेले का सफल संचालन व हो पायेगा। उन्होंने इस मेले के सफल संचालन हेतु राज्य सरकार से 20 लाख की आर्थिक सहायता की मांग की। साथ ही उन्होंने सरकार से यह भी अपील की कि बागेश्वर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए एक मजबूत रणनीति का निर्माण किया जाय। इस अवसर पर विधायक बागेश्वर चन्दन राम दास, विधायक कपकोट बलवंत सिंह भौर्याल ने भी अपने विचार व्यक्त किये।  इस अवसर पर प्रात: 11:00 बजे तहसील परिसर से विभिन्न विद्यालयों के बच्चों तथा विभिन्न सांस्कृतिक दलों द्वारा आकर्षक सांस्कृतिक झांकी का प्रदर्शन किया गया जिसका शुभारम्भ जिलाधिकारी रंजना राजगुरू, क्षेत्रीय विधायक चन्दन राम दास, नगरपालिका अध्यक्ष सुरेश खेतवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश ऐंठानी, पूर्व अध्यक्ष नगरपालिका गीता रावल आदि द्वारा संयुक्त रूप से हरी झण्डी दिखाकर किया गया। सांस्कृतिक झांकी तहसील परिसर से प्रारम्भ होकर पूरे शहर होते हुए नुमाईश मैदान में समाप्त हुई। इस अवसर पर विधायक बागेश्वर चन्दन राम दास, कपकोट बलवंत सिंह भौर्याल एवं जिलाधिकारी रंजना राजगुरू द्वारा मेले में लगे विभिन्न स्टॉलों का निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री राम प्रसाद टम्टा, जिलाध्यक्ष भाजपा एवं पूर्व विधायक शेर सिंह गडिय़ा, समिति के सदस्य एवं सभासद नीमा देवी, मुन्नी मेहता, रूपाली देवी, ब्लाक प्रमुख कपकोट मनोहर लाल, पूर्व ब्लाक प्रमुख रेखा खेतवाल, रणजीत सिंह बोरा, दलीप सिंह खेतवाल, नरेन्द्र खेतवाल, संयुक्त मजिस्ट्रेट नरेन्द्र सिंह भण्डारी, पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह, सीडीओ एसएसएस पांगती, एडीएम राहुल कुमार गोयल, उपजिलाधिकारी/मेलाधिकारी राकेश चन्द्र तिवारी सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति व जनप्रतिनिधि मौजूद थे। मेले का संचालन जयन्त सिंह भाकुनी द्वारा किया गया।

About saket aggarwal

Check Also

दो शहीदों के परिवारों के लिए एक-एक लाख का चेक सौंपा

देहरादून/हल्द्वानी। उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन के प्रतिनधिमंडल ने परिवहन निगम के एमडी राजेश कुमार से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *