Home / Uttatakhand Districts / Almora / नहीं चाहिए तुम्हारी सुविधाएं, हमें गांवों में रहने दो ! तलाड़बाड़ी का धरना-प्रदर्शन

नहीं चाहिए तुम्हारी सुविधाएं, हमें गांवों में रहने दो ! तलाड़बाड़ी का धरना-प्रदर्शन

अल्मोड़ा। विकासखंड हवालबाग की 23 ग्राम सभाओं के पालिका में विलय के फैसले के खिलाफ ग्रामीणों का चरणबद्ध आंदोलन पूरे उफान पर है। हर दिवस किसी ना किसी ग्राम सभा द्वारा धरना-प्रदर्शन किया जा रहा है। सोमवार को ग्राम संघर्ष समिति के बैनर तले ग्राम पंचायत तलाड़बाड़ी ने गांधी पार्क में धरना-प्रदर्शन किया।
धरनास्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि सरकार बिना ग्रामीणों से रायशुमारी कर 23 ग्राम सभाओं के इतिहास, भूगोल, आर्थिक-सामाजिक व्यवस्था को नष्ट करने पर तुली हुई है। सरकार ने जो जन सुनवाई भी की वह भी केवल एक नाटक भर थी। ग्रामीणों की आपत्तियों का एकदम नजरअंदाज कर दिया गया। उन्होंने कहा कि पालिका में यदि उन्हें जबरन शामिल करने का प्रयास किया गया तो सरकार को भारी विरोध के लिए तैयार होना पड़ेगा। धरने में संघर्ष समिति के अध्यक्ष सूरज सिराड़ी, ग्राम प्रधान जानकी देवी, पूरन सिंह, सुंदर सिंह, विपिन सिंह, किशन सिंह, उदय सिंह, दीपा दवी, हरूली देवी, शांति देवी, जानकी देवी, आनंद कनवाल, हरीश कनवाल, हर्ष कनवाल, नवीन बिष्ट, अम्बाराम, भुवन सिंह, सुंदर नाथ, मीरा देवी आदि ने शिरकत की। इधर ब्लाक प्रमुख सूरज सिराड़ी ने सभी ग्रामीणों से कल 11 अक्टूबर को होने जा रहे विशाल प्रदर्शन में भाग लेने के लिए सुबह 10 बजे चैघानपाटा पहुंचने की अपील की है। उन्होंने बताया कि आज 10 अक्टूबर को एक प्रतिनिधिमंडल डीएम से भी मुलाकात करेगा।
डिप्टी स्पीकर रघुनाथ सिंह चैहान पर जताया भरोसा
अल्मोड़ा। ग्राम संघर्ष समिति की यहां हुई बैठक में विधानसभा उपाध्यक्ष व विधायक रघुनाथ सिंह चैहान द्वारा ग्रामीणों को दिये गये समर्थन का स्वागत किया गया। आशा जताई कि चैहान के प्रयासों से ग्रामीणों को विस्तारीकरण के इस फैसले से निजात मिलेगी। ब्लाक प्रमुख सूरज सिराड़ी की अध्यक्षता में हुई बैठक में वक्ताओं ने कहा कि डिप्टी स्पीकर रघुनाथ सिंह चैहान सभा स्थल पर स्वयं पहुंचकर तथा गत दिनों हुई प्रेस वार्ता में भी अपना मत स्पष्ट कर चुके हैं। वह पूरी तरह ग्रामीणों के साथ खड़े हैं, जो हर्ष का विषय है। बैक में ब्लाक प्रमुख सूरज सिराड़ी के अलावा जगत कनवाल, हरीश कनवाल, हर्ष कनवाल, आनंद कनवाल, नवीन बिष्ट, अंबीराम, योगी सुंदरनाथ, भुवन बिष्ट, पूरन सिंह, गोपाल सिंह आदि मौजूद थे।

About saket aggarwal

Check Also

शिकायत सही पाये जाने पर कैमिकल फैक्ट्री सील

बिना ट्रीटमेंट किये प्रदूषित पानी को नदी में बहाये जाने का मामला, बिना अनापत्ति प्रमाण पत्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *