Home / Breaking News / लालकुआं:प्रमुख वन संरक्षक पहुंचे देवरामपुर गेट

लालकुआं:प्रमुख वन संरक्षक पहुंचे देवरामपुर गेट

लालकुआं। उत्तराखंड के प्रमुख वन संरक्षक जयराज ने देवरामपुर गेट के समीप स्थित हाथी कारीडोर क्षेत्र और डॉली के जंगल में स्थित खत्तों का व्यापक निरीक्षण कर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। इस दौरान प्रमुख वन संरक्षक ने कहा कि रेल गाडिय़ों की चपेट में आकर में लगातार हाथियों की मौत को लेकर रेलवे से वार्ता की जायेगी। साथ ही हाथी कारीडोर क्षेत्र में रेलवे द्वारा खोले गए विशालकाय गड्ढे को लेकर उन्हें नोटिस दिया जायेगा।
मंगलवार की प्रात: उत्तराखंड के प्रमुख वन संरक्षक जयराज को क्षेत्रीय विधायक नवीन दुम्का सबसे पहले देवरामपुर गेट के समीप स्थित हाथी कारीडोर क्षेत्र में ले गये। जहां विधायक ने उन्हें बताया कि उक्त क्षेत्र में पिछले 10 वर्षों से खनन कार्य नहीं हो रहा है। जिसके चलते उक्त क्षेत्र अत्यंत ऊंचा हो गया है। और बरसात के दिनों में जब गौला नदी उफान में होती है तो बिन्दुखत्ता की ओर जबरदस्त भू कटाव कर कई हेक्टेयर भूमि को गौला नदी में तब्दील कर चुकी है। उन्होंने प्रमुख वन संरक्षक से मांग की कि उक्त क्षेत्र में खनन की अनुमति प्रदान की जाये ताकि गौला नदी का पानी सुचारु रुप से नदी में जा सकें। और ग्रामीणों को भी भूकटाव गांव का खतरा ना हो।
इसके बाद वह डॉली रेंज में स्थित हमारी खता पहुंचे जहां उन्होंने ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनील इस मौके पर खत्तों में रह रहे लोगो ने उक्त लोगों की मुख्य समस्याओं तथा उनके स्कूल की दशा सुधारने की मांग उठाई इस मौके पर पीसीसीएफ जयराज ने जल्द सकारात्मक कार्यवाही का ग्रामीणों को आश्वासन दिया पत्रकारों से वार्ता करते हुए प्रमुख वन संरक्षक जयराज ने कहा कि लालकुआं से नगला के बीच रेल पटरी पार करते समय रेलगाडिय़ों की टक्कर से लगातार हाथियों की मौत हो रही है। इस मामले में वह रेल विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर मामले में गंभीरता पूर्वक चर्चा करेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि डिपो नंबर 4 के सामने रेलवे द्वारा बनायी गयी ठोकर लाइन की आड़ में उन्होंने हाथी कारीडोर क्षेत्र में विशालकाय गड्ढा खोद दिया है। जिससे जंगली जानवरों को बरसात के समय में भारी खतरा हो सकता है। वन विभाग इस मामले में रेलवे को नोटिस जारी करेगा। विभिन्न खत्तों के भ्रमण कार्यक्रम के दौरान उनके साथ क्षेत्रीय विधायक नवीन दुम्का, भाजपा नेता इंदर सिंह बिष्ट, ग्राम प्रधान मुकेश दुम्का, देवेंद्र सिंह बिष्ट, दीपक जोशी सहित तमाम अधिकारी और ग्रामीण मौजूद थे।

About saket aggarwal

Check Also

रुद्रपुर: फिर बाहर आया एनसीईआरटी का ‘जिन्न’

स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई को सीईओ से मिले अभिभावक रुद्रपुर। शासन के आदेश के बाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *