Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Almora / अल्मोड़ा: प्राइवेट स्कूलों को मात देता राप्रावि गौलीमहर

अल्मोड़ा: प्राइवेट स्कूलों को मात देता राप्रावि गौलीमहर

रंग ला रही प्रधानाध्यापिका की मुहिम, निरंतर बढ़ रही छात्र संख्या

दीपक मनराल , अल्मोड़ा। मौजूदा व्यवस्था में जहां जनपद के तमाम सरकारी विद्यालय कम छात्र संख्या के चलते बंद होते जा रहे हैं, वहीं राजकीय प्राथमिक विद्यालय गौलीमहर प्रधानाध्यापिका के अथक श्रम की बदौलत निरंतर प्रगति कर रहा है। इसके बावजूद विद्यालय में वर्षों से रिक्त चल रहे सहायक अध्यापिका के पद पर नियुक्ति नहीं हो पाने के कारण यहां अपने पाल्यों का दाखिला कराने से अभिभावक हिचक रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि राप्रावि गौलीमहर अल्मोड़ा जिला मुख्यालय से 37 किमी की दूरी पर स्थित है। ग्रामीण क्षेत्र में स्थित यह विद्यालय अपनी विशेष शिक्षण पद्धति के चलते संपूर्ण क्षेत्र में अपनी विशेष पहचान बना चुका है। इस सरकारी विद्यालय में पढऩे वाले नन्हे-मुन्ने बच्चों की प्रतिभा को यदि परखें तो यहां के बच्चे किसी भी प्राइवेट स्कूल के बच्चों को मात दे सकते हैं। अंग्रेजी-हिंदी कविता पाठ हो, निबंध प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता, वाद-विवाद सभी गतिविधियों में यहां के बच्चे बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं। यह सब कुछ संभव हो पाया है यहां की प्रधानाध्यापिका शोभा बिष्ट मनराल के अथक श्रम से। शोभा बिष्ट का कहना है कि वह अपना अधिकांश समय बाल मन को समझने-परखने में बिताती हैं। उनका पूरा प्रयास रहता है कि उनके विद्यालय में पढऩे वाले बच्चे किसी भी निजी स्कूल से बेहतर हों। यहां की शिक्षण पद्धति हर मायने में बेहतरीन है। यही कारण हैं कि वर्तमान में यहां छात्र संख्या निरंतर बढ़ रही है। उल्लेखनीय है कि जनपद के विद्यालय जहां छात्र संख्या कम होने के कारण एक-एक कर बंद होते जा रहे हैं, वहीं गौलीमहर के इस विद्यालय में मौजूदा सत्र में निरंतर छात्र संख्या में इजाफा हो रहा है। वर्तमान में यहां छात्र संख्या 32 है। जिसमें 6 बालक व 26 बालिकाएं अध्यनरत हैं। इसके बावजूद यह आदर्श स्थापित कर रहे इस विद्यालय की उपेक्षा हो रही है। यह विद्यालय लगातार तीन सत्रों से एकल अध्यापक के सहारे चल रहा है। यहां सहायक अध्यापक का पद लगातार रिक्त चल रहा है। शिक्षकों के अभाव में प्रधानाध्यापिका के ऊपर ही पूरी जिम्मेदारी है। हालांकि दो भोजन माता व आंगनबाड़ी कार्यकर्ती भी पूरी निष्ठा के साथ अपनी जिम्मेदारी निभा रही हैं।

 

 

 

तत्काल करें शिक्षक की नियुक्ति

अल्मोड़ा। विद्यालय प्रबंध समिति की बैठक में शिक्षा विभाग व शासन से विद्यालय में तत्काल अतिरिक्त शिक्षकों की नियुक्ति की मांग की। उन्होंने कहा कि कई बार विभाग को इस संबंध में प्रार्थना पत्र देने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई है। बैठक में अध्यक्ष गोपाल सिंह, ग्राम प्रधान मुन्नी देवी, पूर्व प्रधान महेंद्र रावत, पूर्व बीडीसी मेंबर मोहन सिंह, किशन सिंह, तारा देवी, शांति देवी, गंगा देवी, चंदन सिंह, देव सिंह

About saket aggarwal

Check Also

शनिवार, रविवार और सोमवार को भारी बारिश का अलर्ट

जौलीग्रांट/ब्यूरो। मौसम विभाग ने शनिवार से लेकर सोमवार तक तीन दिनों के लिए उत्तराखंड में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *