Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / राष्ट्रपति ने किए बदरी-केदार के दर्शन

राष्ट्रपति ने किए बदरी-केदार के दर्शन

दोनों धामों में परिजनों संग की पूजा-अर्चना
मंदिर समिति ने भेंट की अरसे की टोकरी
रुद्रप्रयाग/देहरादून। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को सपरिवार केदारनाथ और बद्रीनाथ के दर्शन किए। प्रदेश के राज्यपाल डॉ. कृष्ण कान्त पाल तथा मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत भी उनके साथ थे।
लगभग सुबह सात बजकर छप्पन मिनट पर राष्ट्रपति सेना के हेलीकॉप्टर से केदारनाथ मंदिर के पीछे हेलीपैड (एम आई-17) पर पहुंचे, जिसके बाद उन्होंने एटीवी वाहन के जरिए केदारपुरी का भ्रमण किया और उसके बाद केदारनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की। लगभग बीस मिनट तक उन्होंने मंदिर में पूजा-अर्चना की और रूद्राभिषेक किया। इस अवसर पर मंदिर समिति द्वारा राष्ट्रपति को पारम्परिक पकवान रोट और अरसे रिगांल की टोकरी में भेंट की गई। इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने केदारनाथ के मुख्य पुजारी तथा अन्य तीर्थ पुरोहितों से केदारनाथ के बारे में जानकारी भी ली। उसके बाद राष्ट्रपति बद्रीनाथ के लिए रवाना हुए। बद्रीनाथ धाम पहुॅचकर राष्ट्रपति ने विधिवत् पूजा-अर्चना के साथ भगवान श्री बदरी विशाल के दर्शन भी किए। राष्ट्रपति के साथ उनकी पत्नी व उनके परिजन सहित सूबे के राज्यपाल डॉ. कृष्ण कान्त पाल, मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत आदि भी मौजूद रहे। अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रपति बारह ज्योतिर्लिंग में से एक श्री केदारनाथ जी के दर्शन करने के बाद वायु सेना के हेलीकॉप्टर से सुबह 11:15 बजे माणा स्थित सेना के हैलीपैड पहुॅचे। इसके बाद राष्ट्रपति 11:45 बजे बद्रीनाथ मंदिर पहुॅचे, जहॉ उन्होंने लगभग 20 मिनट तक भगवान बदरी विशाल की विधिवत् पूजा अर्चना कर देश की खुशहाली एवं समृद्वि की कामना की। भगवान बद्रीनाथ धाम में अखंड ज्योति के दर्शन व पूजा अर्चना करने के उपरान्त राष्ट्रपति श्री कोविंद को राज्यपाल डॉ.कृष्ण कान्त पाल एवं मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भगवान बद्रीनाथ का प्रतीक चिन्ह, शॉल एवं रिंगाल की टोकरी में भगवान बदरीनाथ का प्रसाद भेंट किया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने भी राष्ट्रपति कोविंद को स्मृति चिन्ह् भेंट किया। भगवान बद्रीनाथ के दर्शन करने के बाद राष्ट्रपति ने खुशी जाहिर की तथा लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। राष्ट्रपति के आगमन को लेकर माणा स्थित सेना के हैलीपैड से लेकर पूरे धाम में सुरक्षा के कडे इंतजाम किये गये थे। विगत तीन दिनों से हो रही लगातार बारीस व भारी ठंड के बीच प्रशासन ने राष्ट्रपति के दौरे में किसी प्रकार की कोई कोर कसर नहीं छोड़ी थी और सभी व्यवस्थएं चाक-चौबंद रखी गयी थी। इसके पश्चात राष्ट्रपति दिल्ली के लिए रवाना हो गए। इस अवसर पर गढ़वाल आयुक्त दिलीप जावलकर, डीआईजी पुष्पक ज्योति, डीआईजी एआर चौहान, सेना ब्रिगेडियर ई.गोविन्द, जिलाधिकारी चमोली आशीष जोशी, डीएम रूद्रप्रयाग मंगेश घिल्डिय़ाल, पुलिस अधीक्षक तृप्ति भट्ट, मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह आदि मौजूद रहे।

About madan lakhera

Check Also

रिलायन्स ट्रेंड्स ने देहरादून में खोला अपना तीसरा स्टोर

किफायती दामों पर उपलब्ध होंगे फेशनेबल परिधान देहरादून। भारत के विशाल परिधेानों की कंपनी रिलायन्स …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *