Breaking News
Home / Breaking News / विधायक ठुकराल समेत तीन भाजपाइयों पर मुकदमा

विधायक ठुकराल समेत तीन भाजपाइयों पर मुकदमा

एससी एक्ट आदि धारओं में हुआ मामला,विधायक पर पंचायत के दौरान आरोपी किशोर के परिजनों से गाली गलौज,मारपीट व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने का आरोप

रुद्रपुर। कोतवाली पुलिस ने विधायक राज कुमार ठुकराल समेत दो अन्य भाजपाइयों पर महिलाओं से गाली गलौज,मारपीट करने व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग के आरोप में संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। उधर विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने पर समर्थकों में आक्रोश फैल गया। पुलिस के मुताबिक इन्दिरा कालोनी गली चार निवासी राम किशोर उर्फ श्यामपुत्र वीरु लाल की ओर से पुलिस को दी गई तहरीर में कहा कि 9मार्च को वह अपने परिवार को लेकर विधायक राज कुमार ठुकराल के घर गया। आरोप है कि इसी बीच विधायक आग बबूला हो गये और गाली गलौज करने लगे। विधायक के पास बैठे भाजपा नेता किरन सरदार व पूर्व सभासद दिलीप अधिकारी ने भी परिजनों के साथ गली गलौज कर मारपीट करनी शुरु कर दी। आरोप है कि विधायक समेत दोनो भाजपाइयों ने जाति सूचक शब्दों का भी प्रयोग कर अपमानित किया। विधायक समेत दोनो पर धमकी देने आरोप है। पुलिस ने विधायक समेत दोनो भाजपाइयों के खिलाफ गाली गलौज,मारपीट करना व जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने के आरोप में संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। एसएसआई व प्रभारी कोतवाल नासिर हुसैन बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर ली है। इसकी जांच विभागीय उच्चाधिकारी द्वारा की जायेगी। उधर विधायक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज होने पर समर्थकों में कड़ा रोश है। उन्होने विधायक को एक साजिशन के तहत बदमान करने का प्रयास किया गया है। बता दें कि विधायक पहले भी कई विवादों में सुर्खियों में रहे हैं।
मामले की जांच की जायेगी: चौहान

रुद्रपुर। सीओ बीएस चौहान ने बताया कि मामले की विवेचना की जायेगी। जांच में मामला सही पाये जाने तक आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जायेगी।

 

 

पुलिस के पास पहुंचा सुलह समझौता का शपथ पत्र

रुद्रपुर। विधायक ठुकराल पर गाली गलौज कर मारपीट व जाति सूचक शब्दों के प्रयोग का आरोप लगाने वाला पीडि़त पक्ष की ओर से सुलह समझौते का शपथ पत्र पहुंच गया। इसी प्रति मीडिया कर्मियो के कार्यालय में भी पहुंची है। शपथ पत्र के मामले में सीओ का कहना था कि शपथ पत्र का या कोई सुलह समझौत की सूचना पुलिस के पास नहीं हैं।

 

विधायक राज कुमार ठुकराल का कहना है कि उन्हें विरोधियो के इशारे पर फंसाया जा रहा है। उनके घर पर किसी भी महिला या किसी अन्य से इस तरह की कोई वारदात नहीं हुई है। हां उन्होंने स्वीकार किया कि एक किशोरी को किशोर भगा कर ले जाने का मामला आया था। दोनो पक्षों में सहमति न बनने पर मामला पुलिस के सुपुर्द कर दिया। उनसे कोई लेना देना नहीं है।

 

About saket aggarwal

Check Also

महाराष्ट्र: किसानों को कर्ज देने में हुई देरी, बैंकों पर कार्रवाई

मुंबई (एजेंसी)। महाराष्ट्र सरकार की ओर से किसानों की कर्ज माफी की घोषणा किए एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *