Breaking News
Home / Breaking News / रुद्रपुर:राजस्व अधिकारी सप्ताह में तीन दिन लगाएं कोर्ट : डीएम
बैठक के दौरान राजस्व अधिकारियों को दिशा निर्देश देते निर्देश

रुद्रपुर:राजस्व अधिकारी सप्ताह में तीन दिन लगाएं कोर्ट : डीएम

रुद्रपुर। जिलाधिकारी डा.नीरज खैरवाल ने कलेक्टे्रट के एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में आयोजित मासिक स्टॉफ समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। कहा कि न्याय का रास्ता सरल व सुगम हो। इसलिए अधिकारी सप्ताह में तीन दिन कोर्ट लगाकर सुनवाई करना सुनिश्चित करें। डीएम ने परम्परागत प्रणाली के स्थान पर नवाचार प्रणाली विकसित करते हुए सप्ताह में तीन दिन कोर्ट लगाकर पूराने लम्बित वादों के निस्तारण में तेजी लाने तथा किसी भी वाद में अनावश्यक तारीख न देने के निर्देश दिये। पांच वर्ष के अधिक समय से लम्बित वादों की सुनवाई सप्ताह में दो बार करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि वाद में बहस पूरी होने के पश्चात 14 दिन के भीतर निर्णय सुनाने को कहा। उन्होंने कब्जा परिवर्तन की प्रक्रिया के दौरान भूमि का मौका मुआयना करने के निर्देश उप जिलाधिकारियों को दिये। डीएम ने पुलिस विभाग से सम्बन्धित बिन्दुओं पर विस्तृत जानकारी देने, समय-समय पर लेखपाल, पटवारियों आदि के कार्यों एवं पत्रावलियों का निरीक्षण करने, राजस्व अधिनियम के अनुसार कार्य करने, भूमि उपयोग परिवर्तन हेतु आवेदन प्राप्त होने पर तत्काल रजिस्टर्ड कराने, शत-प्रतिशत सम्मन तामील कराने, राजकीय सम्पत्ति रजिस्टरों की जांच व भौतिक सत्यापन करने के निर्देश सभी एसडीएम व तहसीलदारों को दिये। उन्होंने सम्मन तामील हेतु प्रत्येक तहसील में दो होमगाडर््स की तैनाती कराने के निर्देश एडीएम को दिये। उन्होंने बैठक में सूचना देने के बाद भी पूर्ति निरीक्षकों के बैठक में उपस्थित न होने को गंभीरता से लेते जिला पूर्ति अधिकारी के प्रतिनिधि को बैठक से बाहर करते हुए पूर्ति निरीक्षकों के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिये। डीएम ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि वह पेट्रोल पम्पों, गैस वितरण केन्द्रों और राशन की दुकानों पर छापेमारी कर व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया जाये। उन्होंने चेतावनी देते हुए सुलह रिपोर्ट दो जुलाई तक उपलब्ध न करने वाले उप जिलाधिकारियों को खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाने को कहा। उन्होंने आरसी की वसूली हेतु सम्बन्धित बैंकर्स, वाणिज्यकर विभाग के सहायक कमिश्नरों को सप्ताह में एक दिन उप जिलाधिकारियों के साथ वसूली कार्य में संयुक्त रूप से कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि अनावश्यक आरसी राजस्व विभाग के पास न रहें तथा आवश्यक कार्रवाई करते हुए सम्बंधितों को तत्काल प्रेषित करने को कहा। उन्होंने कहा कि विविध देय की वसूली में मानवीय दृष्टिकोण रखते हुए वसूली कार्य में तेजी लाई जाये। बैठक में संयुक्त मजिस्ट्रेट विनीत तोमर, एडीएम जगदीश चन्द्र काण्डपाल, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी एनएस नबियाल, मुख्य नगर आयुक्त जय भारत सिंह, किच्छा एसडीएम नरेश चन्द्र दुर्गापाल, रुद्रपुर एसडीएमू युक्ता मिश्रा, दयानन्द सरस्वती आदि थे।

About saket aggarwal

Check Also

पुंछ जाकर शहीद औरंगजेब के परिवार से मिले सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

नई दिल्ली (एजेंसी)। जम्मू-कश्मीर में सीजफायर खत्म होने से एक दिन पहले ही आतंकियों ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *