Home / Breaking News / रुद्रप्रयाग: जीवीके कंपनी के खिलाफ होगी एफआईआर दर्ज

रुद्रप्रयाग: जीवीके कंपनी के खिलाफ होगी एफआईआर दर्ज

पपड़ासू गांव में पानी की बंूद के लिए ग्रामीण मोहताज 

एक सप्ताह के भीतर ग्रामीणों को पानी मुहैया कराने के निर्देश
जिलाधिकारी ने किया गांव का भ्रमण

रुद्रप्रयाग। विकासखण्ड जखोली का अंतिम गांव पानी की हर एक बूंद को मोहताज है। अलकनन्दा नदी के किनारे बसे होने के बावजूद भी पपडासू गांव में ना तो पीने का पानी है और ना ही सिंचाई के लिए एक बूंद पानी। ऐसे में ग्रामीण विकास की क्या अवधारणा है यह साफ पता चलती है पपडासू गांव से।
गम्भीर पेयजल समस्या से जूझ रहे गांव का जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने दौरा किया और ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। बद्रीनाथ केदारनाथ राष्ट्ीय राजमार्ग से सटे इस गांव में प्रकृति ने तो सब कुछ दिया है, मगर कुछ नहीं है तो वह है पानी। लम्बे समय बाद भी प्रशासनिक इकाइयां इस गांव को पानी पिलाने में अभी तक असमर्थ ही दिख रही हैं। यह क्षेत्र श्रीनगर जल विद्युत केचमेंट एरिया के अन्र्तगत आता है और यहां पर सीआरएस के तहत कई कार्य गांव में किये जाने थे, मगर जो कार्य अतिआवश्यक थे वह कम्पनी द्वारा किये ही नहीं गये। जिस कारण ग्रामीण पानी की बंूद-बूंद के लिए तरस रहे हैं। वहं सिंचाई गूलें पानी के अभाव में अब रास्तों का रुप ले चुकी हैं। ऐसे में क्षेत्र पूरी तरह से पानी विहीन बना हुआ है। जिलाधिकारी ने गांव का दौरा कर ग्रामीणों से वार्ता की और गांव की सीआरएस व्यवस्थाओं को देख रही जीवीके कम्पनी को हिदायत देते हुए कहा कि अगले एक सप्ताह में गांव में पेयजल आपूर्ति बहाल नहीं की गई तो कम्पनी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर दी जायेगी। साथ ही डीएम ने सिंचाई विभाग को भी शीघ्र ही सिंचाई नहरों को खोलने और उन पर पानी शुरु करवाने के निर्देश दिये। इधर, राजकीय प्राथमिक विद्यालय पपडासू की जीर्ण-शीर्ण छत के संबंध में जिलाधिकारी ने तहसीलदार रुद्रप्रयाग को दैवीय आपदा मद से विद्यालय की छत ठीक कराने के निर्देश दिए। साथ ही गांव को पर्यटन स्थल के रूप मे विकसित करने के लिए गांव की कुल सिविल भूमि का नजरी नक्शा तैयार करने के निर्देश तहसीलदार को दिए। डीएम श्री घिल्डियाल ने कहा कि गांव के विकास को लेकर सभी विभागों की एक विस्तृत कार्ययोजना तैयार की जायेगी, जिससे गांव का विकास हो सके और पलायन पर रोक लग सके। इस मौके पर प्रधान शशि देवी, पूर्व प्रधान विक्रम सिंह चैहान सहित कई मौजूद थे।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: नलकूपों के रखरखाव को मिले दो करोड़

हल्द्वानी। शहर में खराब पड़े नलकूपों को दुरुस्त कराने के लिए शासन से दो करोड़ की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *