Home / Breaking News / रुद्रपुर : अतिक्रमण हटाओ अभियान फिर शुरू

रुद्रपुर : अतिक्रमण हटाओ अभियान फिर शुरू

सुबह से ही व्यापारियों ने खुद मजदूर लगवा कर शुरू किया ध्वस्तीकरण

रुद्रपुर। प्रशासन द्वारा फिर से अतिक्रमण हटाओ अभियान शुरू करने की घोषणा से फिर शहर के व्यापारियों में हड़कंप मच गया है। बाजार की शुरुआत वाले दुर्गा मंदिर धर्मशाला गली के कारोबारियों ने सोमवार को सुबह से अपना अतिक्रमण तुड़वाना शुरू कर दिया। इसके अलावा तमाम स्थानों पर फिर से अतिक्रमण खुद हटाने की फौरी कार्रवाई शुरू हो गई है।
एक एनजीओ की याचिका पर हाईकोर्ट ने रुद्रपुर मुख्य बाजार से अतिक्रमण हटाकर फुटपाथ व ग्रीन बेल्ट की जमीन खाली कराने के निर्देश दिए थे। दो साल तक नगर निगम प्रशासन इस आदेश को दबाए रहा। इसी बीच एनजीओ ने कोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल कर दी तो कोर्ट ने जिला प्रशासन व नगर निगम को तलब किया। व्यक्तिगत रूप से जिलाधिकारी, एसएसपी व अपर नगर आयुक्त को पक्षकार बनाया गया तो हड़कंप मचा। एसएसपी तो फोर्स देेने का शपथ पत्र देकर बच गए। डीएम व एमएनए ने अतिक्रमण हटाने के लिए प्लान प्रस्तुत किया। अप्रैल में अतिक्रमण हटाना शुरू हुआ। बाजार में व्यापारियों ने खुद ही तेजी से अतिक्रमण तोडऩा शुरू कर दिया। इसी बीच विधवानी मार्केट में अतिक्रमण हटवाते वक्त जब सीवर टैंक टूट गए तो व्यापारियों ने एसडीएम के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए दो दिन तक बाजार बंद रखा। डीएम ने फिर से व्यापारियों को खुद अतिक्रमण हटाने की मोहलत दे दी लेकिन व्यापारी टस से मस नहीं हुए। पिछले हफ्ते डीएम ने अफसरों के साथ बैठक कर हफ्ते में दो दिन अतिक्रमण हटाने के लिए निर्धारित कर दिये। सोमवार व गुरुवार को प्रशासनिक टीम को अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिये। डीएम ने साफ कर दिया अब किसी को बख्शा नहीं जाएगा। जो दुकान या घर बंद मिलेंगे उनके बिजली व पानी के कनेक्शन काट दिये जाएंगे। शनिवार को फिर से डीएम ने सोमवार को अतिक्रमण हटाओ अभियान शुरू करने की घोषणा कर दी। इसके चलते बाजार में हड़कंप मच गया। सोमवार को सुबह से वीर हकीकत मार्ग (दुर्गा मंदिर धर्मशाला गली) पर कारोबारियों ने सुबह से ही अतिक्रमण हटवाने के लिए तोडफ़ोड़ करानी शुरू कर दी। अनुमान लगाया जा रहा है कि इसी गली से प्रशासन की टीम अतिक्रमण हटाना शुरू करेगी। बाजार के दूसरे हिस्सों में अतिक्रमण हटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

 

 

शुरू हुए सामूहिक प्रयास

अभी तक अतिक्रमण हटाने के नाम पर दुकानदार अकेले ही काम कराते थे, लेकिन वीर हकीकत राय मार्ग पर इस बार दुकानदारों ने सामूहिक तौर पर काम शुरू करवाया। इसके लिए बाकायदा पूरी प्लानिंग की गई। सोमवार को सुबह से सड़क को दोनों ओर से बंद कर दिया गया जिससे कोई भी हादसा न हो सके।

 

 
बदल जाएगा बाजार का स्वरूप
अतिक्रमण हटाओ अभियान यदि निगम द्वारा किये चिन्हीकरण के हिसाब से चला तो बाजार का स्वरूप ही बदल जाएगा। महाराजा रणजीत सिंह चौक से गल्ला मंडी तक तो मात्र फर्श व टीनशेड का ही अतिक्रमण है लेकिन बाजार से लगती गलियों में बेइंतहा अतिक्रमण है। इन गलियों में कहीं दस तो कहीं 17 फुट तक फुटपाथ को दबा लिया गया है। इतना ही नहीं तकरीबन व्यापारियों ने पहली व दूसरी मंजिल पर अपनी रिहायश बना रखी है। यदि अतिक्रमण हटा तो दो-तीन मंजिला घरों का करीब 15 फुट का हिस्सा टूटना तय है। यहां बता दें कि नगर निगम की टीम ने बाजार में 1376 अतिक्रमण चिन्हित किये हैं। इतने बड़े पैमाने पर तोडफ़ोड़ होने पर बाजार का स्वरूप बदलना निश्चित है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी:21 को देहरादून कूच का ऐलान

हल्द्वानी। उत्तराखंड कार्मिक, शिक्षक, आउटसोर्स संयुक्त मोर्चा 21 जुलाई को देहरादून कूच करेगा। इस मौके …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *