Home / Breaking News / रुद्रपुर: वाहनों में नेम प्लेट के खिलाफ पुलिस ने शुरू किया अभियान

रुद्रपुर: वाहनों में नेम प्लेट के खिलाफ पुलिस ने शुरू किया अभियान

सीपीयू ने भी की कार्रवाई, प्राईवेट वाहनों पर लगे सरकारी बोर्ड भी उतरवाये
रुद्रपुर। पुलिस ने उच्चाधिकारियों के आदेश पर जनपद में नेम प्लेट लगे घूम रहे चारपहिया वाहनों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। इसी के तहत जिला मुख्यालय पर यातायात पुलिस और सीपीयू ने भी ऐसे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करते हुये नेम प्लेट उतरवाई। इस बीच चारपहिया वाहन स्वामियों की पुलिस से नोकझोंक भी हुई। वाहन स्वामियों ने पुलिस पर बिना वजह परेशान करने का आरोप लगाया। उल्लेखनीय है कि जिला मुख्यालय पर सीपीयू, यातयाता पुलिस और कोतवाली पुलिस ने चारपहिया वाहनों पर लगे नेम प्लेट बोर्ड के खिलाफ अभियान शुरू कर दिया। यह कार्रवाई पुलिस ने अपने उच्चाधिकारियों के दिशा-निर्देशन में शुरू की। पिछले दिनों इंदिरा चौक पर यातायात निरीक्षक मनीष शर्मा ने वाहनों पर लगी नेम प्लेट बोर्ड को उतरवा कर कार्रवाई की। इसके साथ ही पुलिस ने दोबारा वाहन पर बोर्ड लगाने पर वाहन को सीज करने की चेतावनी भी दी। यातायात पुलिस ने एक निजी कार पर यूपी सरकार का लगा बोर्ड भी उतरवाया। पुलिस के मुताबिक जिले में चारपहिया वाहनों पर लोग अपने अपने पदों के नेम प्लेट लगाये घूम रहे हैं। वाहन पर पद का बोर्ड लगा कर घूमना यातायात नियमों का उल्लंघन है। सीपीयू के दरोगा राजेश बिष्ट ने कांस्टेबल आरएल भाष्कर ने भी कई वाहनों पर लगे नेम प्लेट को उतरवा कर उनके खिलाफ कार्रवाई की। इस अभियान के दौरान वाहन स्वामियों व पुलिस के बीच नोकझोंक भी हुई। वाहन स्वामियों का आरोप था कि पुलिस लोगों को बिना किसी वजह परेशान कर रही है। बता दें कि विभिन्न संगठनों समेत राजनैतिक दलों के लोग अपने-अपने वाहनों पर पद का नेम प्लेट लगाये घूम रहे हैं। मजेदार बात तो यह है कि पद छोटा हो या बड़ा हर व्यक्ति नेम प्लेट लगाकर वह लोग बड़ी शान से घूमते हैं। उधर यातायात निरीक्षक मनीष शर्मा का कहना था कि यह कार्रवाई उच्चाधिकारियों के आदेश पर की जा रही है। उन्होंने बताया कि वाहन पर बोर्ड लगाकर यातायात नियमों का उल्लंघन है। कहा अभियान में कोई कोताही नहीं हो रही है।

 
बेहड़ ने उठाए अभियान पर सवाल
रुद्रपुर। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलक राज बेहड़ ने पुलिस द्वारा चलाये जा रहे अभियान पर सवाल उठाये हैं। उनका कहना था कि पुलिस या प्रशासन की गाडिय़ों की नेम प्लेट भी उतारी जायेगी या फिर इस अभियान को औपचारिकता तक सीमित रखा जायेगा। पुलिस को यातायात नियमों का पालन कराने के लिये अपने विभाग व प्रशासन से ही शुरुआत करनी चाहिये। उनका कहना था कि पुलिस का यह अभियान तभी सफल होगा जब पुलिस अभियान के दौरान बिना भेदभाव के कार्रवाई करे।

About saket aggarwal

Check Also

देशभक्ति नारे से गुंजायमान हुआ आसमान

स्वतंत्रता दिवस पर रंगारंग कार्यक्रमों का आयोजन डोईवाला/ब्यूरो। पूरे क्षेत्र में स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *