Breaking News
Home / Breaking News / रामनगर : संतपाल हत्याकांड का एक अभियुक्त दबोचा
पुलिस हिरासत में आरोपी अंकित चौधरी।

रामनगर : संतपाल हत्याकांड का एक अभियुक्त दबोचा

रामनगर। संतपाल हत्याकांड में पुलिस ने जसपुर क्षेत्र से एक अभियुक्त को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस अन्य फरार अभियुक्तों की तलाश में जुटी हुयी है।
कोतवाली में हत्याकांड का खुलासा करते हुये एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने बताया कि विगत छह जुलाई को गोपाल नगर मालधन चौड़ में अभियुक्तों ने रकम के लेन-देन के विवाद में संतपाल, दलबीर, जोगेन्द्र नामक तीन भाइयों को गोली मार दी थीं। जिसमें संतपाल की मौके पर ही मौत हो गयी थी। मृतक की पत्नी कुलवती की तहरीर पर अंकित, रिजवान, दीपक व तीन अन्य के विरुद्ध मुकदमा कायम किया गया था।
एसएसपी सुनील कुमार मीणा ने एसपी क्राइम रचिता जुयाल, एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव, सीओ पंकज गैरोला के नेतृत्व में छह पुलिस टीमें गठित की हैं। जिन्होंने अभियुक्तों की तलाश में सुरागकसी की तथा जसपुर कोतवाल अबुल कलाम व एसएसआई ललित मोहन जोशी के सहयोग से अभियुक्त अंकित चौधरी पुत्र स्व. वीर सिंह निवासी लालपुर बक्सौरा, थाना कुण्डा, जिला उधमसिंह नगर को जसपुर के कलियावाला मोड़ से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। एसपी सिटी श्रीवास्तव के अनुसार गिरफ्तार अंकित ने बताया कि घटना में लिप्त अन्य अभियुक्त राजीव के मृतक संतपाल पर 25 हजार रुपये तथा अभियुक्त कपिल के मृतक पर 18 हजार रुपये उधार के थे। घटना वाले दिन अंकित, कपिल तथा रिजवान, राजीव, सुरजीत ढिल्लो एक साथ संतपाल से रकम लेने कुंडा चौराहे पर पहुंचे। संतपाल को रकम के लिये फोन किया तो उसने इन लोगों को वहीं रूकने के लिये कहा। काफी देर तक नहीं आने पर जब दोबारा कॉल करने पर गालियां देनी शुरू कर दी। इस बीच रिजवान अपने घर वापस चला गया और अंकित, राजीव, कपिल, सुरजीत संतपाल के गांव चले गये। जहां संतपाल व राजीव में मारपीट होने लगी। दो बाइकों पर संतपाल की ओर के छह लोग हाथों में डंडे लेकर मौके पर आ गये और मारपीट करने लगे। जिसमें राजीव का सिर फट गया तब राजीव ने अपने लाइसेंसी रिवाल्वर से चार गोलियां चलायी, जिसमें दो संतपाल के लगी और वह मौके पर गिर गया तथा दो गोलियां उसके भाइयों के लगी। घटना के बाद अंकित चौधरी, कपिल, राजीव कार से मौके से भाग गये तथा सुरजीत वहीं छूट गया। एसपी सिटी के अनुसार घटना में शामिल शेष अभियुक्त भी पुलिस की गिरफ्त में होंगे। घटना के खुलासे में कोतवाल रवि कुमार सैनी, एसओ काठगोदाम कमाल हसन, एसआई जयपाल सिंह चौहान, कविन्द्र शर्मा, राजेन्द्र कमार, गगनदीप सिंह, नीरज चौहान, एचसीपी नंदन नेगी, कांस्टेबल महबूब अली, संजय कुमार, नीरज कुमार, भूपेन्द्र सिंह, गगन भंडारी, एसओजी के रियाज अख्तर आदि शामिल रहे।

 

 
एक आरोपी सीपीयू में है तैनात
रामनगर। संतपाल हत्याकांड में शामिल फरार अभियुक्त कपिल काशीपुर पुलिस में सीपीयू में तैनात है। इस बात की पुष्टि कोतवाल रवि कुमार सैनी ने करते हुये बताया कि पकड़े गये अभिुयक्त अंकित चौधरी के अनुसार कपिल के भी संतपाल पर 18 हजार रुपये उधार के थे। जिन्हें लेने के लिये वह भी हत्याभियुक्त राजीव व अन्य के साथ घटनास्थल पर गया। मारपीट के दौरान उसके हाथ की घड़ी व मोबाइल मौके पर ही छूट गया था। एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव के अनुसार कपिल के विरुद्ध नियमानुसार विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

About saket aggarwal

Check Also

रामनगर : भाजपा नेता स्वामी के खिलाफ दी तहरीर

रामनगर। कांग्रेस के युवराज व सांसद राहुल गांधी को नशेड़ी कहे जाने से नाराज एनएसयूआई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *