Home / Breaking News / एसडीएम सितारगंज रिसीवर नियुक्त

एसडीएम सितारगंज रिसीवर नियुक्त

गुरुद्वारा नानकमत्ता साहिब प्रबंधन समिति विवाद को लेकर जिला प्रशासन सक्रिय
रुद्रपुर। गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब प्रबंधन समिति के विवादों को सुलझाने के लिए जिला प्रशासन सक्रिय हो गया है। गुरुवार को देर शाम अफसरों ने दोनों पक्षों को सुना जबकि अग्रिम व्यवस्था तक एसडीएम सितारगंज को रिसीवर नियुक्त किया गया है। गुरुवार को देर शाम डीएम डॉ. नीरज खैरवाल, एसएसपी डॉ. सदानंद दाते व अपर जिला जज विवेक द्विवेदी ने प्रबंधन समिति के दोनों पक्षों को अलग-अलग सुना। डीएम ने दोनों पक्षों की सुनवाई करने के पश्चात दोनों पक्षों के साथ वीसी हॉल में बैठक लेते हुए कहा कि कमेटी का कार्यकाल पूरा होने पर सरदार जसविंदर गिल प्रधान पद पर आसीन नहीं रह सकते। गुरुद्वारा प्रबंधन समिति द्वारा तीन सदस्य सरदार प्रीतम सिंह संधू, सरदार केहर सिंह व सरदार सेवा सिंह का निलंबन प्रकरण न्यायालय में लंबित है। इस प्रकार अधिसूचना के अनुसार उक्त तीनों सदस्यों को भी नवीन पदभार ग्रहण नहीं कराया जा सकता है। दोनों पक्षों में आम सहमति न होने पर जिलाधिकारी द्वारा निर्णय लिया गया कि तीन सदस्यों के निलंबन संबंधी प्रकरण के न्यायालय से निस्तारित होने तक या उक्त प्रकरण में सभी सदस्यों की आम सहमति होने तक 27 जून 2018 तक गुरुद्वारा प्रबंधन समिति नानकमत्ता के रिसीवर के रूप में उप जिलाधिकारी सितारगंज निर्मला बिष्ट को नामित किया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि 27 जून 2018 को जिलाधिकारी दफ्तर के मीटिंग हॉल में पुन: बैठक कर समिति के सदस्यों की सहमति से अग्रिम निर्णय लिया जायेगा।
बैठक में एडीएम प्रताप सिंह शाह, एएसपी देवेन्द्र पींचा, एसडीएम सितारगंज निर्मला बिष्ट, एसडीएम रुद्रपुर युक्ता मिश्रा, गुरुद्वारा समिति के जसविंदर सिंह गिल, सेवा सिंह, बलजिंदर सिंह, सूरत सिंह, प्रीतम सिंह संधू, केहर सिंह, सेवा सिंह, निशान सिंह, जरनैल सिंह, कुलदीप सिंह सहित सभी 27 सदस्य उपस्थित थे।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी:कूड़ा निस्तारण न करने पर नगर निगम का पुतला फूंका

हल्द्वानी। शहर में जगह-जगह कूड़े के ढेर लगने से गुस्साये लोगों ने प्रदर्शन कर नगर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *