Home / Business / तरक्की की राह पर शक्ति पम्पस इंडिया

तरक्की की राह पर शक्ति पम्पस इंडिया

दूसरी तिमाही में शक्ति पम्पस को 9.27 करोड़ का मुनाफा
कुल राजस्व 104 प्रतिशत बढ़कर 139 करोड़ रुपए हुआ
देहरादून। भारत के अग्रणी एनर्जी एफीशिएंट स्टेनलेस स्टील और सोलर इंटीग्रेटेड पंप बनाने वाली शक्ति पम्पस (इंडिया) लिमिटेड ने वित्त वर्ष २०१९ की दूसरी तिमाही शानदार प्रदर्शन किया है। सौ से ज्यादा देशों में अपने प्रोडक्ट एक्सपोर्ट करने वाली शक्ति पंप लि. ने 30 सितंबर, 2018 को समाप्त वित्तीय वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में अपने कुल राजस्व में 104 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है और राजस्व रुपए 139 करोड़ पर पहुंच गया, वहीं नेट प्रॉफिट साल दर साल 207 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करते हुए रुपए 9.27 करोड़ रहा।
इस अवधि में कंपनी का राजस्व 68 करोड़ रुपए की तुलना में 104 प्रतिशत बढ़कर 139 करोड़ रुपए हो गया। इसी प्रकार 11.42 करोड़ रुपए के मुकाबले एबिटा 86 प्रतिशत से बढ़कर 21.24 करोड़ रुपए हो गया। इस अवधि में छमाही राजस्व 159 करोड़ रुपए की तुलना में 49 प्रतिशत से बढ़कर 237 करोड़ रुपए रहा।
कंपनी के अनुसार 30 सितंबर, 2018 को समाप्त अवधि में प्रथम छमाही प्रॉफिट 7.84 करोड़ रुपए की तुलना में 102 प्रतिशत से बढ़कर 15.91 करोड़ रुपए रहा। वहीं 2019 के प्रथम छमाही (एच 1) में प्रति शेयर आय बढ़त 4.27 से 8.66 हुई है।
कंपनी के प्रदर्शन पर टिप्पणी करते हुए दिनेश पाटीदार, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर शक्ति पम्पस (इंडिया) लिमिटेड ने कहा कि कम्पनी अपनी जिन नीतियों पर काम कर रही है वो इन परिणामो में दिख रहा है। सरकार भी सोलर प्रोजेक्ट को बढ़ावा दे रही है, जिसका आगे चलकर सबको फायदा होगा। एमएनआरई, राज्य सरकार, अंतर्राष्ट्रीय सोलर अलायन्स (आईएसए), नाबार्ड इत्यादि द्वारा हम भविष्य में भी सोलर प्रोजेक्ट पर ध्यान केन्द्रित करेंगे और हमारे विक्रेता/वितरक नेटवर्क को फैलाते हुए निर्यात व्यापर को बढ़ाने के प्रयास जारी रखेंगे। यूनियन बजट में की गई घोषणा जिसमें अक्षय उर्जा खास कर सोलर उर्जा पर अत्यधिक ध्यान केन्द्रित रहा जो कंपनी के लिए लाभदायक रहेगा।

About madan lakhera

Check Also

कांग्रेस का 23 सूत्रीय ‘विजन डाॅक्यूमेंट’ जारी

पार्टी ने दिलाया निकायों के सुनियोजित विकास का भरोसा नागरिक सुविधाओं पर की विस्तार से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *