Home / Breaking News / शिमला मिर्च की फसल में किसान देख रहे हैं लाभ
हल्द्वानी मंडी में बेचने को जा रही पहाड़ में उत्पादित शिमला मिर्च।

शिमला मिर्च की फसल में किसान देख रहे हैं लाभ

मनोज कुमार जोशी/पहाड़पानी। अब किसान पुरातन कृषि परम्परा को बदल कर साग-भाजी का उत्पादन कर रहे हैं। नैनीताल जनपद के अधिकतर ब्लॉक खेतीबाड़ी और फल सब्जियों के लिए प्रसिद्ध माने जाते हैं। बतातें चलें कि आलू की फसल पैदावार कम होने और महंगे घटिया बीज आने के कारण किसानों ने इसे बदलकर अनेक नई प्रकार की सब्जियों का उत्पादन शुरू कर दिया है। किसान कम लागत और अधिक रेट एवं उत्पादन को देखते हुए किसानों ने शिमला मिर्च बोना शुरू किया था, जिसकी इन दिनों हल्द्वानी मंडी में खूब डिमांड है। पहाड़ी शिमला मिर्च इन दिनों मंडी में पच्चीस से चालीस रुपए किलो तक बिक रही है। हल्द्वानी मंडी के आढ़ती पूरन चन्द्र जोशी, नवीन बेलवाल, योगेश जोशी, भुवन चन्द्र तिवारी, लक्ष्मी दत्त तिवारी आदि के मुताबिक पहाड़ी क्षेत्रों से आने वाली शिमला मिर्च बरेली, किच्छा, रुद्रपुर, सितारगंज, दिल्ली आदि शहरों तक यह शिमला मिर्च पहुंच रही है और इसकी खूब मांग है। धारी ब्लॉक नदगल गांव के किसान प्रकाश चन्द्र जोशी, हरीश चन्द्र जोशी, राकेश जोशी के मुताबिक यहां होने वाली शिमला मिर्च की लगातार पैदावार बढ़ायी जा रही है। इसमें बरसात को लेकर कई बीमारियों का बचाव करना होता है। दीनी के किसान दशरथ सिंह, भूपाल सिंह, बालम सिंह आदि के मुताबिक यहां भी लगातार आलू की फसल को कम करने के बाद शिमला मिर्च की फसल को बढ़ावा दिया जा रहा है। यह अलग अलग तरह से पैक कर बाजार भेजी जाती है। यह अधिक डिमांड के हिसाब से कट्टे और पेटियों में पैक कर भेजी जाती है। पहाड़ी क्षेत्रों में भी फुटकर में शिमला मिर्च बिक रही है।

 

 
आलू का बीज मिलने में परेशानी
पहाड़पानी। आलू की फसल कम पैदावार और उपज ही नहीं आलू की अन्य प्रजातियां लुप्त होने लगी है। कुछ वर्षों पूर्व तक आलू की बम्पर पैदावार भी होती थी लेकिन अब आलू की फसल कम बोई जा रही है और अधिकांश किसान केवल गोला आलू का उत्पादन करते हैं। जबकि इससे पहले गोला आलू के अलावा शिमला आलू, गरुड़ आलू और फूल आलू जैसी अन्य प्रजातियां बोई जाती थी और पैदावार भी अच्छी होती थी वह बीज भी नहीं मिल पा रहा है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: चोरों ने एक दिन में चार बाइकें उड़ाई

  हल्द्वानी। वाहन चोरों ने एक दिन में अलग-अलग स्थानों से चार बाइकों पर हाथ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *