Breaking News
Home / Breaking News / रुद्रपुर : सिडकुल की मेट्रोपोलिस में दबंगों का तांडव

रुद्रपुर : सिडकुल की मेट्रोपोलिस में दबंगों का तांडव

रुद्रपुर। महानगर से सटी पॉश कॉलोनी में बिगड़ैल रइसजादों ने बीती रात जमकर हंगामा काटा। विरोध करने पर सुरक्षा कर्मियों से मारपीट की। एक कर्मी का सर भी फट गया है। जानकारी के अनुसार मेट्रोपोलिस कॉलोनी के बी, 2-5 टावर के फ्लैट संख्या 61 में बीती रात कुछ युवक नशे में धुत होकर हंगामा काट रहे थे। जिससे आस पड़ोस के लोग खासे परेशान थे। पड़ोसियों की शिकायत पर जब कॉलोनी की सुरक्षा का जिम्मा संभाल रहे गार्ड रमेश चंद्र भट्ट के साथ सुपरवाइजर जितेंद्र सिंह चौहान मौके पर पहुंचे और हंगामा काट रहे युवकों को समझाने का प्रयास किया, तो वे भडक़ गए और सुरक्षाकर्मियों के साथ धक्का-मुक्की करने लगे। इससे पहले कि सुरक्षाकर्मी सचेत हो पाते आरोप है कि युवकों ने सुपरवाइजर जितेंद्र चौहान के सिर पर धारदार हथियार से वार कर दिया जिससे वह लहूलुहान हो गए। थोड़ी ही देर बाद मामले की सूचना मिलते ही कॉलोनी के अन्य सुरक्षाकर्मी भी मौके पर पहुंच गए और जैसे-तैसे घायल सुपरवाइजर जितेंद्र सिंह चौहान व गार्ड रमेश चंद्र भट्ट को युवकों के चंगुल से छुड़ाया। देर रात कॉलोनी में हंगामे की जानकारी मिलने के बाद सिडकुल चौकी भी मौके पर पहुंच गई और सुपरवाइजर चौहान व सुरक्षाकर्मी भट्ट को जिला अस्पताल पहुंचाकर उनका उपचार करवाया। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने आरोपी सभी युवकों का मेडिकल कराने के बाद पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। खबर लिखे जाने तक कुछ लोग सुरक्षाकर्मियों पर दबाव बनाकर मामले में राजीनामा कराने की कोशिश में जुटे थे। सिडकुल चौकी प्रभारी केजी मठपाल ने बताया कि पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है।

 

 

 

अय्याशी का अड्डा बना फ्लैट 61
मेट्रो पुलिस के जिस फ्लैट में बीती रात हंगामा काटा गया उक्त फ्लैट पूना के रोहित कुमार के नाम पर है। फ्लैट को प्रॉपर्टी डीलर अमित अग्रवाल ने साहिल व गोपी नाम के दो युवकों को एक माह पूर्व ही किराए पर दिया था। बताया जाता है कि पखवाड़े भर पूर्व साहिल किसी युवती के साथ फ्लैट में रंगरेलियां मनाते हुए पकड़ा गया था जिसके बाद शिकायत मिलने पर मेट्रोपोलिस रेजिडेंट एसोसिएशन ने साहिल पर 21 हजार का जुर्माना भी ठोका था। सूत्रों के मुताबिक बीती रात हंगामा काट रहे युवक साहिल व गोपी के परिचित बताए जा रहे हैं और रात 9 बजे के बाद वे किसी युवती को लेकर फ्लैट में पहुंचे जिसे आधी रात को वापस भेजने के बाद सभी ने जमकर शराब का सेवन किया।बाद में जब अंगूर की बेटी सर चढक़र बोली तो सभी आपे से बाहर हो गए और टावर के निचले फ्लोर पर पहुंच कर हंगामा काटने लगे। फ्लैट संख्या 61 के पड़ोस में रहने वाले लोगों ने दबी जुबान में बताया कि उक्त फ्लैट में आए दिन रंगरेलियां मनाई जाती है लेकिन युवकों की दबंगई के कारण वे पुलिस को शिकायत करने से बचने को मजबूर है।

 

 

इनका हुआ मेडिकल
सिडकुल पुलिस ने हंगामे के आरोपी सभी युवक मूल रूप से हैदराबाद व मुम्बई के हैं। जोकि आवास विकास स्थित किसी बहुराष्ट्रीय कंपनी के कार्यालय में कार्यरत हैं। पकड़े गये युवकों में शाहीराव निवासी मुंबई, सतीश खंडाराव हाल निवासी मेट्रोपोलिस, राजेश मनि कंदन मनिकंदन निवासी मुंबई, सूरज राठौर हाल निवासी मेट्रोपोलिस, सय्यद वकार अब्बास हाल निवासी आवास विकास व चेतन सिंह हाल निवासी आवास विकास शामिल हैं।

About saket aggarwal

Check Also

नैनीताल में सफाई कर्मचारी संघ चुनाव के लिए प्रत्याशियों का प्रचार तेज

नैनीताल। देवभूमि उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संघ की नगरपालिका परिषद नैनीताल शाखा के 23 जून (रविवार) …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *