Home / Breaking News / आंगनबाड़ी के खाते से काटा जाएगा स्मार्टफोन का पैसा

आंगनबाड़ी के खाते से काटा जाएगा स्मार्टफोन का पैसा

आंगनबाड़ी को स्मार्टफोन के विरोध में उतरा संगठन

डोईवाला/ब्यूरो। केंद्र सरकार के पोषण अभियान के तहत आंगनबाड़ी वर्कर को स्मार्टफोन दिए जाने का आंगनबाड़ी संगठन ने विरोध किया है।

संगठन से जुड़े पदाधिकारियों ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र से जुड़े तमाम कार्यो को ऑन लाइन करने के लिए सरकार आंगनबाड़ी को स्मार्टफोन देने जा रही है। जिसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। और संबधित विभाग द्वारा स्मार्टफोन खरीद भी लिए गए हैं। स्मार्टफोन का पैसा आंगनबाड़ी के मानदेय से काटा जाएगा। जबकि आंगनबाड़ी को कार्य के अनुसार काफी कम मानदेय दिया जाता है। सभी मोबाइलों में नेटवर्क अच्छा होने पर ही इंटरनेट चलता है। लेकिन काफी गांव और स्थान हैं जहां इंटरनेट सेवाएं काफी कम हैं। ऐसी जगहों पर स्मार्टफोन चलाने में काफी दिक्कतें आएंगी। वहीं कई आंगनबाड़ी कम पढ़ी-लिखी भी हैं। जिन्हे स्मार्टफोन से तमाम तरह की रिपोर्ट भेजने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

आंगनबाड़ी को जो स्मार्टफोन दिए जाएंगे। उसमें विभाग के कई तरह के सॉफ्टवेयर होंगे। इन्ही सॉफ्टवेयर से विभाग को रिपोर्ट भेजनी पड़ेगी। कम पढ़े-लिखे लोगों के लिए सॉफ्टवेयर चलाना काफी मुश्किल कार्य होगा। आंगनबाड़ी संगठन की प्रदेश महामंत्री सुशीला खत्री ने कहा कि सरकार मानदेय बढाने के बजाय उन पर और बोझ लादना चाहती है। जिसका संगठन सड़कों पर उतरकर विरोध करेगा। सुनीता राणा, रीमा देवी, रेखा रावत, सीमा देवी, गीता खत्री, सिमरन पंवार, पिंकी भट्ट, निशा बिष्ट, सरोज सोलंकी आदि ने भी आंगनबाड़ी को स्मार्टफोन दिए जाने का विरोध किया है।

विभाग ने आंगनबाड़ी केंद्रो से मांगा है ब्योरा

डोईवाला। आंगनबाड़ी को स्मार्टफोन देने से पहले बाल विकास विभाग की तरफ से कुछ जानकारियां मांगी गई हैं। निदेशक झरना कमठान ने जिला कार्यक्रम अधिकारियों से आंगनबाड़ी केंद्र से जुड़ी हुई जानकारियां मांगी हैं। जिसमें सेक्टर नाम, आंगनबाड़ी केंद्र का नाम, केंद्र पर उपलब्ध मोबाइल नेटवर्क कंपनी के बारे में जानकारी मांगी है।

About madan lakhera

Check Also

डेंगू : बकरी का दूध बना अमृत

हल्द्वानी। अगर आपके पास बकरी है और वह भी दूध देने वाली तो इन दिनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *