Home / Breaking News / गर्मी आई नहीं देश में भीषण सूखा

गर्मी आई नहीं देश में भीषण सूखा

नई दिल्ली (एजेंसी)। पिछले मानसून में बारिश कम होने की वजह से अगले कुछ महीनों में देश के कई हिस्सों में जल संकट गहरा सकता है। अभी गर्मी की शुरुआत हुई है। आने वाले महीनों में भयंकर गर्मी पड़ेगी। पिछले साल अक्टूबर से मार्च 2018 के मौसम विभाग के आंकड़ों को देखें तो देश के कुछ हिस्सों में अगले कुछ महीनों में पडऩे वाली भीषण गर्मी से उत्पन्न सूखे के हालात की भयावहता नजर आती है। मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल अक्टूबर 2017 से बारिश की स्थिति संतोषजनक नहीं रही। हालात ये हैं कि 404 जिलों में सूखे की स्थितियां बन गई हैं।

अत्यंत सूखे की कैटेगरी में 140 जिले
मौसम विभाग के मुताबिक, 404 जिलों में से 140 जिलों में अक्टूबर 2017 से मार्च 2018 की अवधि में अत्यंत सूखा करार दिया गया। 109 जिलों में मामूली सूखा, जबकि 156 जिलों में हल्के सूखे की स्थितियां बताई गईं हैं। आईएमडी डेटा से देशभर में 588 जिलों का अध्ययन करने पर पता चलता है कि 153 जिले बेहद सूखी श्रेणी में हैं। इन जिलों में जनवरी से मार्च 2018 तक की अवधि में बारिश हुई ही नहीं है। चिंताजनक बात तो यह है कि आईएमडी की मानकीकृत वर्षा सूचकांक (एसपीआई) में गत वर्ष (जून 2017 से) मानसून के महीनों में भी 368 जिलों में हल्के से बहुत सूखे की स्थितियां दर्शायी गई हैं।

About saket aggarwal

Check Also

रुद्रपुर:स्थायी लोक अदालत में निपटेंगे एक करोड़ तक के मामले

रुद्रपुर। विधिक सेवा प्राधिकरण 1987 की धारा 22बी के अंतर्गत राज्य सरकार ने चार जिलों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *