Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Almora / स्वच्छता अभियान नृसिंहबाड़ी को पालिका से सहयोग की दरकार

स्वच्छता अभियान नृसिंहबाड़ी को पालिका से सहयोग की दरकार

 

अल्मोड़ा। स्वच्छता अभियान नृसिंहबाड़ी के बैनर तले नि:स्वार्थ भाव से सफाई कार्य में जुटे नागरिकों ने रविवार को चोक हुई नालियों व आम रास्तों से लगभग दो दर्जन कट्टे गंदगी निकाली। सफाई अभियान में जुटे लोगों ने कहा कि यदि पालिका की ओर से उन्हें जरा भी सहयोग मिल जाता तो वह सिर्फ अपने मोहल्ले ही नहीं पूरे शहर को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दे सकते थे।
उल्लेखनीय है कि नृसिंहबाड़ी का स्वच्छता अभियान अन्य मोहल्लों के लिए एक मिसाल बन चुका है। नियमित रूप से सफाई अभियान में जुटने वाले लोगों की यह टोली जहां भी जाती है वहां आम रास्तों, गलियों की काया ही बदल जाती है। प्रत्येक रविवार यह लोग बैठक के बाद आगे की रूपरेखा तय करते हैं और सफाई अभियान में जुट जाते हैं। रविवार को इन जागरूक नागरिकों की टोली ने अपने वार्ड में व्यापक स्वच्छता अभियान चलाया। इस दौरान तमाम गलियों व आम रास्तों की सफाई की गई। नालियों में जमा गंदगी को भी इन लोगों ने स्वयं निकाला और कट्टों में भरना शुरू कर दिया। नागरिकों का कहना था कि वह नियमित रूप से सफाई अभियान चला रहे हैं। नागरिक अन्य मोहल्लों, वार्डों में जाकर भी सफाई कार्य करने को तैयार हैं, लेकिन वह हर बार अन्य वार्डों में नहीं जा सकते। अन्य वार्डों के लोगों की भी यह जिम्मेदारी है कि वह स्वच्छता अभियान समिति नृसिंहबाड़ी की तर्ज पर अपने-अपने संगठन विकसित करें। यदि हर वार्ड में इस तरह के जागरूक नागरिकों की टोली बन जाये तो पूरा शहर एक आदर्श बन सकता है। टोली में शामिल लोगों का कहना था कि पालिका यदि थोड़ा भी उन्हें सहयोग दे तो इस अभियान के बेहतर नतीजे निकल सकते हैं। इसका लाभ पूरे शहर को मिल सकता है।

 

 

धारानौला में कूड़े के ढेर स्वच्छता अभियान को लगा रहे पलीता

अल्मोड़ा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान के प्रति जनप्रतिनिधि कितने संजीदे हंै, इसका जीता जागता उदारहण है धारानौला में बिखरा कूड़े का ढेर। धारानौला टैक्सी स्टेंड के पास नगरवासी बेतरजीब तरीके से कूड़ा फैंक रहे हैं, लेकिन शासन-प्रशासन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जिस कारण राहगीरों एवं दूर-दराज के यात्रियों को भीशण र्दुगंध का सामना करना पड़ रहा है। गौरतलब है कि गंदगी के इस अंबार से मात्र तीस मीटर की दूरी पर विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान का आवास स्थित है। बावजूद इसके सड़क किनारे फैली इस गंदगी को साफ करने वाला कोई नहीं है। पालिका भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है। इन हालातों को देखकर समझा जा सकता है कि स्वच्छता अभियान के प्रति सरकारी नुमाइंदे कितने संजीदे हंै। रविवार को चले सफाई अभियान में हरीश अधिकारी, ओमी बूड़ाथोकी, डॉ. बीएल आर्य, एडवोकेट कुंवर बिश्ट, गुलाब आर्य, प्रकाश रावत, एडवोकेट भूपेंद्र मियान, आशीश वर्मा, गोपाल सिंह जीना, दीपक पांडे, रिंकू वर्मा आदि शामिल थे।

 

 

साहब कब लगेंगे नृसिंहबाड़ी में कूड़ेदान ?

अल्मोड़ा। स्वच्छता अभियान समिति नृसिंहबाड़ी के सदस्यों का कहना है कि पालिका प्रशासन ने नृसिंहबाड़ी में चार बड़े कूड़ेदान देने का वायदा किया था, लेकिन केवल दो ही कूड़ेदान लगे। शेश दो कूड़ेदानों के लिए कई बार अधिशासी अभियंता से मिल चुके हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। कूड़ेदानों के अभाव में जहां-तहां कचरा बिखरा रहता है। उन्होंने जल संस्थान से भी मोहल्ले में बेतरतीब बिखरे पाइपों को एक तरफ लगाने की मांग की है।

About saket aggarwal

Check Also

पंतनगर:कुमाऊं राइफल्स ने पंतनगर विश्वविद्यालय के साथ मनाया शेरॉन दिवस

पंतनगर। पंतनगर विश्वविद्यालय के गांधी हाल में आज अपराह्न में कुमाऊं राइफल्स ने फिलिस्तीन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *