Home / Breaking News / ताजमहल मालिकाना विवाद: वक्फ नहीं पेश कर सका साक्ष्य

ताजमहल मालिकाना विवाद: वक्फ नहीं पेश कर सका साक्ष्य

नई दिल्ली, एजेंसी। ताजमहल पर मालिकाना हक जताने वाला सुन्नी वक्फ़ बोर्ड उच्चतम न्यायालय में अपने दावे के समर्थन में आज कोई दस्तावेजी साक्ष्य पेश नहीं कर सका।
वक्फ़ बोर्ड ने अपनी दावेदारी पर नरम रुख अपनाते हुए कहा कि ताजमहल का असली मालिक खुदा है। जब कोई संपत्ति वक्फ़ को दी जाती है तो वह खुदा की संपत्ति बन जाती है। इससे पहले वक्फ बोर्ड का दावा था कि वह ताजमहल का मालिक है और उसके पास इसके समर्थन में दस्तावेजी साक्ष्य मौजूद है।
वक्फ़ बोर्ड ने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष कहा कि उसे ताजमहल को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की देख-रेख में बनाये रखने में कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन नमाज और उर्स जारी रखने का बोर्ड का अधिकार बरकरार रहे। इस पर एएसआई ने अधिकारियों से निर्देश लेने के लिए वक्त मांगा। मामले की अगली सुनवाई 27 जुलाई को होगी।

About saket aggarwal

Check Also

तराई-भाबर में निजी बसों का संचालन पूरी तरह ठप

केमू की हड़ताल का तीसरा दिन, समर्थन में आये कुमाऊं भर के निजी बस संचालक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *