Home / Breaking News / राहत: ऊखीमठ क्षेत्र से नमूने एकत्र कर जांच हेतु जिला अस्पताल पहुंचेंगे

राहत: ऊखीमठ क्षेत्र से नमूने एकत्र कर जांच हेतु जिला अस्पताल पहुंचेंगे

जीएमओयू व जीप-टैक्सी व सूमो यूनियनों ने जताई सहमति

रुद्रप्रयाग। विभिन्न बीमारियों में रक्त की जांच के लिए दूरस्थ क्षेत्रों से जिला मुख्यालय की दौड़ लगाने वाले ऊखीमठ ब्लॉक की जनता को स्वास्थ्य विभाग ने बड़ी राहत दी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा फाटा, गुप्तकाशी व ऊखीमठ चिकित्सा इकाईयों में पहुंचने वाले मरीजों के रक्त सहित अन्य की जांच नमूनों को एकत्र कर जांच के लिए जिला चिकित्सालय पहुंचाया जाएगा। शनिवार को जिला अधिकारी मंगेश घिल्डिय़ाल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में उक्त योजना का आगामी मंगलवार से शुभांरम्भ करने का निर्णय लिया गया है।
ऊखीमठ क्षेत्र में रक्त आदि नमूनों की जांच की सुविधा न होने से क्षेत्रवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। इसके दृष्टिगत स्वास्थ्य विभाग द्वारा इन क्षेत्रों में फाटा, गुप्तकाशी व ऊखीमठ में रक्त के नमूने एकत्र करने की योजना बनाई थी। जिला सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में उक्त योजना के संपादन के लिए स्वास्थ्य विभाग, परिवहन विभाग के अधिकारियों, जीएमओयू के स्टेशन प्रभारी व टैक्सी-जीप-सूमो यूनियन के पदाधिकारियों की बैठक आहूत की गई। बैठक में यातायात कंपनी जीएमओयू, जीप-टैक्सी व सूमो यूनियनों के प्रतिनिधियों द्वारा फाटा, गुप्तकाशी व ऊखीमठ क्षेत्र में संचालित होने वाले वाहनों के माध्यम से इन स्थानों पर एकत्रित होने वाले नमूनों के कैरियर को जनपद में निर्धारित स्थान पर छोडऩे की सहमति व्यक्त की है। जिलाधिकारी श्री घिल्डिय़ाल ने स्वास्थ्य विभाग को उक्त कार्य हेतु मजबूत सामंजस्य बनाते हुए बेहतर प्रबंधन के लिए निर्देशित किया। साथ ही तय किया गया कि उक्त योजना का आगामी मंगलवार से शुभारंभ कर दिया जाएगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सरोज नैथानी ने बताया कि इन तीन स्थानों पर विभाग का स्वास्थ्य कर्मी जीएमओयू की बसों व जीप-टैक्सी, सूमों यूनियन के वाहनों के आवगमन समय पर नमूनों के कैरियर वाहन में रखना सुनिश्चित करेगा व डाक व्यवस्था की भांति संबंधित बस का परिचालक एवं वाहन का चालक जिला मुख्यालय में निर्धारित स्थल पर नमूनों के कैरियर को पहुंचवाने में सहयोग करेंगे, जहां से स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी जिला अस्पताल स्थित पैथोलोजी लैब तक पहुंचाना सुनिश्चित करेगा। उन्होंने बताया कि नमूनों की जांच रिपोर्ट इन क्षेत्रों में तैनात नर्स को व्हाट्सअप या ईमेल के माध्यम से प्रेषित की जाएगी। उन्होंने बताया कि रक्त नमूने लेने व संग्रहण कार्य के लिए तीन नर्सों की एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन कर उन्हें प्रशिक्षित कर दिया गया है। बैठक में उपजिलाधिकारी मुक्ता मिश्रा, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ डीएस रावत, वरिष्ठ पैथोलॉजिस्ट डॉ बिष्ट, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी पंकज श्रीवास्तव, यातायात कंपनी जीएमओयू के स्टेशन प्रभारी श्री एसपी पंत, मंदाकिनी जीप टैक्सी यूनियन के भगत कपरूवाण, रूद्रा टाटा सूमो यूनियन के अध्यक्ष आदि मौजूद रहे।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: नलकूपों के रखरखाव को मिले दो करोड़

हल्द्वानी। शहर में खराब पड़े नलकूपों को दुरुस्त कराने के लिए शासन से दो करोड़ की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *