Home / Breaking News / यूपी बोर्ड: 66 लाख छात्रों के साथ 200 से ज्यादा कैदी भी दे रहे हैं परीक्षा
प्रतीकात्मक फोटो

यूपी बोर्ड: 66 लाख छात्रों के साथ 200 से ज्यादा कैदी भी दे रहे हैं परीक्षा

नई दिल्ली (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपीएमएसपी) की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा आज से शुरू हो गई है। इस साल यूपी बोर्ड की परीक्षा में कुल 66,37,018 छात्र शामिल हो रहे हैं। बोर्ड परीक्षा के लिए 8549 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। नकल रोकने के लिए 22 टीमें गठित की गई हैं। जहां एक ओर कुल 66 लाख से ज्यादा छात्र परीक्षा दे रहे हैं, वहीं 8 जेलों में भी करीब 200 से ज्यादा कैदी यूपी की परीक्षा दे रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ लेंगे परीक्षा का जायजा
बोर्ड हर छात्र के लिए अहम होता है। वहीं बोर्ड की परीक्षा के दौरान किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो, इसके लिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद बोर्ड की परीक्षाओं का जायजा लेने परीक्षा केंद्र जाएंगे। वहीं नकल के बढ़ते स्तर को देखते हुए उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा भी परीक्षा केंद्रों पर छापा मार सकते हैं।
यूपी बोर्ड ने नकल को लेकर गंभीरता दिखाते हुए काफी कड़े निर्देश दिए हैं। सरकार ने कहा है कि जिस भी केंद्र पर सामूहिक नकल करते पाया जाएगा, वहां के प्रधानाचार्य और स्कूल प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेजा जाएगा। इस बार प्रदेश के 50 संवेदनशील जिलों में कोडेड कॉपी पर परीक्षा कराई जाएगी। वहीं सभी परीक्षा केंद्रों को सीसीटीवी के दायरे में लाया गया है। सभी संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर प्रशासन की पैनी नजर होगी।
बता दें, यूपी बोर्ड परीक्षा 6 फरवरी, 2018 से शुरू हुई है। हाईस्कूल की परीक्षा 22 फरवरी, 2018 तक और इंटर की परीक्षा 10 मार्च, 2018 तक चलेंगी। यूपी बोर्ड ने कहा है कि परीक्षाओं में पहले दस स्थान पाने वाले छात्रों को एक लाख का पुरस्कार दिया जाएगा।

परीक्षा का समय
यूपी बोर्ड परीक्षाओं को दो शिफ्ट में बांटा गया है। जिसमें पहली परीक्षा सुबह 7.30 से 10.45 बजे तक होगी वहीं दूसरी परीक्षा दोपहर 2 से 5.15 बजे तक होगी। इसी के साथ इस बार 10वीं में 36,55,691 छात्र शामिल होंगे, जिनमें 21,43,387 लडक़े और 15,12,304 लड़कियां होंगी। वहीं 12वीं में 29,81,327 छात्र बैठेंगे, जिनमें 16,74,124 लडक़े और 13,07,203 लड़कियां परीक्षा में शामिल होंगी।

About saket aggarwal

Check Also

प्रदेश कांग्रेस को मिली नई उर्जा तो भाजपा के लिए सबक

उत्तराखंड में भी दिखेंगे नतीजों के साइड इफेक्ट्स     मदन मोहन लखेड़ा, देहरादून। राज्यों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *