Home / Breaking News / उत्तराखंड में पुलिस अफसरों के 60 पद खाली

उत्तराखंड में पुलिस अफसरों के 60 पद खाली

श्रेणी ‘क’ के 26 प्रतिशत, श्रेणी ‘ख’ के 33 प्रतिशत, श्रेणी ‘ग’ के 6 तथा श्रेणी ‘घ’ के 20 प्रतिशत पद रिक्त
रुद्रपुर। उत्तराखंड पुलिस में निचले से लेकर उच्च स्तर तक के अधिकारियों कर्मचारियों के पद रिक्त हैं। अपर पुलिस अधीक्षक व उससे उच्च स्तर के पुलिस अधिकारियों के ही 60 पद रिक्त हैं। यह खुलासा सूचना अधिकार के अंतर्गत पुलिस मुख्यालय के लोक सूचना अधिकारी द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना से हुआ है। काशीपुर निवासी आरटीआई एक्टिविस्ट नदीमउद्दीन ने पुलिस मुख्यालय से उत्तराखंड पुलिस में सृजित कुल पदों, कार्यरत व रिक्त पदों की सूचना मांगी थी। इसके उत्तर में पुलिस मुख्यालय के लोक सूचना अधिकारी/सहायक पुलिस महानिरीक्षक (प्रशिक्षण) एनएस नपलच्याल द्वारा अपने पत्रांक 754 से सूचना उपलब्ध करायी है। नदीम को उपलब्ध सूचना के अनुसार उत्तराखंड में श्रेणी ‘क’ के पुलिस अधिकारियों (आईपीएस) के 73 पद हैं जिसमें वर्तमान में केवल 54 आईपीएस ही कार्यरत हैं। इसके अतिरिक्त श्रेणी ‘ख’ के पुलिस अधिकारियों के 143 स्वीकृत पद हैं जिसमें केवल 95 अधिकारी ही कार्यरत हैं। इसमें अपर पुलिस अधीक्षक श्रेणी-1 के 9 पदों पर ही सभी अधिकारी कार्यरत है जबकि अपर पुलिस अधीक्षक विशेष श्रेणी के सभी चार पद रिक्त हैं। अपर पुलिस अधीक्षक श्रेणी दो के 19 पदों में से 16 तथा पुलिस उपाधीक्षकों के 111 पदों में से केवल 70 पर ही अधिकारी कार्यरत हैं, इनके 41 पद रिक्त है। श्रेणी ग के उत्तराखंड पुलिस में कुल 25598 सृजित पद है जिसमें से 24021 पर ही कर्मचारी कार्यरत हंै जबकि 1577 पद रिक्त हैं। इसमें पुलिस सब इंस्पेक्टर के अतिरिक्त सभी पदों की रिक्तियां हैं। बड़े थानों के प्रभारी बनाये जाने योग्य निरीक्षकों के 207 पदों में से केवल 169 पर ही अधिकारी कार्यरत हैं। इनके 38 पद रिक्त हैं। यातायात निरीक्षकों के 21 पदों में से केवल आठ पर ही अधिकारी कार्यरत हैं। 13 पद रिक्त हैं। नदीम को उपलब्ध सूचना के अनुसार श्रेणी ‘घ’ के कुल 1668 पदों में से 1325 पर ही कर्मचारी कार्यरत हैं शेष 344 पद रिक्त हैं। कुल 547 पदों पर आउटसोर्स कर्मचारी कार्यरत है जिसमें 246 श्रेणी ग तथा 301 श्रेणी घ के पदों पर कार्यरत हैं। इस सूचना से स्पष्ट होता है कि उत्तराखंड पुलिस में कुल सृजित पदों 27482 की तुलना में 25495 कर्मचारी कार्यरत हैं जिसमें 7.32 प्रतिशत कुल 1987 पद रिक्त हैं। इनमें से 547 पदों पर आउटसोर्स कर्मचारी कार्यरत हैं। सर्वाधिक 33.56 प्रतिशत पद श्रेणी ‘ख’ के अधिकारियों के रिक्त हैं जबकि 26 प्रतिशत पद श्रेणी ‘क’ के अधिकारियों के रिक्त है। श्रेणी ग के कुल कर्मचारियों के तो 6.16 प्रतिशत पद रिक्त है लेकिन इनमें शामिल टै्रफिक इंस्पेक्टरों के 62 प्रतिशत में इंस्पेक्टरों के 16.66 प्रतिशत पद रिक्त है। श्रेणी घ के कर्मचारियों के 20.56 प्रतिशत पर रिक्त है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: आटो चालक ने की होमगार्ड की पिटाई

हल्द्वानी। सड़क से ऑटो हटाने की बात कहने पर चालक ने होमगार्ड के साथ मारपीट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *