Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / बलूनी दिखा रहे राज्य के सांसदों को आइना

बलूनी दिखा रहे राज्य के सांसदों को आइना

उत्तराखंडियांे के हितांे को लेकर केंद्र में कर रहे जोरदार पैरवी
अल्प अवधि में ही नाम की कई उपलब्धियां
कांग्रेसियों ने भी उनकी कार्यशैली को सराहा
बोले, अनिल बलूनी से प्रेरणा लें अन्य सांसद
देहरादून। उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद एवं भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी लगातार सुर्खियों में हैं। देवभूमि उत्तराखंड और यहां के लोगांे के हितों को लेकर उनकी सक्रियता प्रदेश के लिए सौगातों की पोटली साबित हो रही है। जनहित के मसलों पर दिल्ली में उनकी जोरदार पैरवी और नायाब पहल असर दिखा रही हैै।
राज्यसभा सांसद के अभी छोटे से कार्यकाल में उन्होंने जनता-जर्नादान को सीधा लाभ पहुंचाने वाली कई उपलब्धियां अपने नाम कर दिल्ली में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व कर रहे सांसदों सहित अन्य वरिष्ठ राजनीतिज्ञों को भी आईना दिखा दिया है। अपनी सक्रियता और कार्यशैली के चलते सांसद अनिल बलूनी जनता में खासी लोकप्रियता हासिल करने के साथ ही अब विपक्षी दल कांग्रेस की भी वाहवाही लूटने में पीछे नहीं है। कोटद्वार में कांग्रेसियों ने एक बैठक कर अनिल बलूनी की कार्यशैली व सक्रियता को न सिर्फ सराहा बल्कि राज्य के अन्य सांसदों को उनसे पे्ररणा लेने की भी सलाह दे डाली है। बदरीनाथ मार्ग स्थित पार्टी कार्यालय में हुई कार्यकर्ताआंे की इस बैठक मंे कांग्रेस ने राज्य के पांचों सांसदों से उनके द्वारा गोद लिए गए गांवांे की स्थिति पर जानकारी सार्वजनिक करने की मांग की है। कोटद्वार की यह बैठक कांग्रेस ही नहीं भाजपा और जनता में भी गर्मागर्म सियासी चर्चा का मुद्दा बनी है। माना जा रहा है कि अपनी सक्रियता, कार्यशैली व उत्तराखंडी मुद्दों पर जोरदार पैरवी के साथ केंद्र स्तर पर पकड़ को सांसद अनिल बलूनी इस गति के साथ बनाए रखने में कामयाब रहे तो जल्द ही लोकप्रियता और सियासी कद के मोर्चे पर वह राज्य के खांटी भाजपाइयों को न सिर्फ चुनौती देते बल्कि उनपर भारी भी पड़ते दिखेंगे।

राज्यसभा सांसद एवं भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी

आपको बता दें कि राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने प्रदेश के 16608 विशिश्ट बीटीसी शिक्षकों के अरसे से लंबित मामले को हाल ही में हल कराकर बड़ी उपलब्धि हासिल की है। इन हजारों शिक्षकांे की नौकरी पर तलवार लटकी हुई थी। इससे पहले उन्होंने पहाड़ी क्षेत्रों में सेना और अर्द्धसैनिक बलों के स्वास्थ्य केंद्रों के दरवाजे प्रदेश के आम नागरिकांे के लिए खुलवाकर स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी सौगात देने का काम किया। अपनी सांसद निधि से पहाड़ी क्षेत्रों में आईसीयू यूनिट स्थापित करने की उनकी मुहिम तेजी से आगे बढ़ रही है। गढ़वाल और कुमांउ में पीजीआई खुलवाने का रास्ता भी उन्होंने अपनी विशिष्ट कार्यशैली और पैरवी के दम पर तैयार करवाया है। हल्द्वानी और दून के बीच दिन में नई चेयरकार रेल सेवा शुरु कराना भी अनिल बलूनी की उपलब्धियों में शुमार है। इतना ही नहीं उन्होंने प्रदेश में पौड़ी जनपद के दुगड्डा ब्लाक के एक ऐसे गांव को गोद लिया है, जो पलायन की मार के चलते निर्जन हो चुका है। इस रेल सेवा के लिए सालों से मांग उठ रही थी। उन्होंने इस गांव को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर आबाद करने का बीड़ा उठाया है। इसके अलावा जनहित और जनसरोकारों को लेकर वह कई नायाब पहल भी अपने स्तर से कर चुके हैं।

About madan lakhera

Check Also

हल्द्वानी : युवा कांग्रेस ने मोदी सरकार के खिलाफ निकाली भड़ास

हल्द्वानी। युवा कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि व बढ़ती बेरोजगारी के विरोध में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *