Home / Breaking News / उत्तराखंड राज्य स्थापना की 18वीं वर्षगांठ

उत्तराखंड राज्य स्थापना की 18वीं वर्षगांठ

नैनीताल। उत्तराखंड राज्य स्थापना की 18वीं वर्षगांठ के अवसर पर जिला प्रशासन की ओर से आदर्श आचार संहिता को दृष्टिगत रखते हुए सामान्य कार्यक्रम आयोजित किए गए। सुबह नौ बजे सर्वप्रथम जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन ने चिडिय़ाघर रोड पर शहीद पार्क में राज्य आंदोलन के दौरान शहीद हुए आंदोलनकारी प्रताप सिंह बिष्ट की प्रतिमा पर पुष्प चढ़ा कर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर शहीद के चाचा सुरेन्द्र सिंह व परिवार के अन्य लोगों के साथ ही राज्य आंदोलनकारी राजीव लोचन साह, ललित कांडपाल सहित अनेक लोग भी मौजूद थे। इसके उपरांत 10 बजे से फ्लैट मैदान में विकास मेला एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आयोजित विकास मेले का शुभारंभ आयुक्त कुमाऊं मंडल राजीव रौतेला द्वारा किया गया। इस अवसर पर कुमाऊं कला केन्द्र खुर्पाताल के कलाकारों ने रंगकर्मी विनोद कुमार व नई दिशा संस्था के कलाकारों ने किशन लाल के नेतृत्व में तथा आरोही संस्था के कलाकारों द्वारा कुमाऊंनी, गढ़वाली लोक संगीत के अलावा मतदाता जागरूकता विषय पर कार्यक्रम प्रस्तुत किए गये। इस अवसर हल्द्वानी से आये कलाकार हरीश भट्ट व पत्नी हेमलता भट्ट व एडीएम हरबीर सिंह ने भी देशभक्ति गीत प्रस्तुत कर दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। आयुक्त ने अपने संबोधन में कहा कि विगत 18 वर्षों में उत्तराखण्ड ने देश के अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है। बार-बार प्राकृतिक आपदाओं के बावजूद सभी उत्तराखण्ड वासियों की दृढ़ संकल्प शक्ति से राज्य ने अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई है और विकास की बुलन्दियों को छुआ है। आज उत्तराखण्ड देश के अग्रणी राज्यों में अपना स्थान बना चुका है। इन वर्षो में हमने कई उपलब्धियां हासिल की हैं। मौजूदा दौर में हमारे सामने बहुत सी चुनौतियां भी हैं। सच्चे मायने में विकास के लिए आर्थिक प्रगति व सामाजिक प्रगति का लाभ दूर-दराज के गांवों में रहने वाले साधनहीन लोगों तक पहुंचाना होगा। उन्होंने कहा कि हम राजकीय सेवा के किसी भी पद पर आसीन हों, हमारा उद्देश्य होना चाहिए कि विकास की रोशनी दूर-दराज इलाको में बैठे हुए गरीबों की कुटिया तक पहुंच सके। कहा पूरा विश्वास है कि वर्ष 2019 तक पूर्ण साक्षरता, वर्ष 2022 तक सबको आवास व किसानों की आय दौगुनी करने का लक्ष्य पूरा करने में उत्तराखण्ड अग्रणी राज्यों में होगा। डीएम विनोद कुमार सुमन ने कहा लोकतंत्र को सुदृढ़ एवं मजबूत बनाने में देश के प्रत्येक नागरिक एवं मतदाता का विशेष योगदान है। भविष्य में नागर निकाय मतदान तथा लोक सभा का मतदान सम्पन्न होगा। सभी से आग्रह है कि लोकतंत्र के इन पर्वों में अधिक से अधिक संख्या में मतदान करें और लोकतंत्रीय व्यवस्था को मजबूत करने में सहयोग दें। प्रदर्शनी में जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा मतदाता जागरूकता के लिए विशेष स्टॉल लगाये गये थे। इसके साथ ही आधार कार्ड बनाने के लिए भी स्टॉल की व्यवस्था की गई थी। मेले में कृषि, उद्यान, दुग्ध विकास, सहकारिता, समाज कल्याण, विद्युत विभाग, जल संस्थान, पशुपालन, ग्राम्य विकास विभाग द्वारा भी अपने स्टॉल लगाकर लोगों को जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। मेले में महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा उत्पादित वस्तुओं की बिक्री के लिए भी विशेष स्टॉल लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मेले में मुख्य मंच पर सूचना एवं लोक संपर्क विभाग नैनीताल के कलाकारों द्वारा विशेष रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। इस अवसर पर सीडीओ विनीत कुमार, एडीएम हरवीर सिंह, बीएल फिरमाल, सहायक सूचना निदेशक योगेश मिश्रा, पूर्व विधायक, सरिता आर्य, किशन लाल साह कोनी, खष्टी बिष्ट, प्रमोद कुमार, जिला पंचायत के देशराज, सीओ, विजय थापा, तहसीलदार कृष्ण कुमार, हेमा राठौर, मान सिंह, डा. टीके टम्टा, मदन मेहरा, कुसुम टोलिया, तरूणा बंसल, कमल जोशी, पटवारी मनोज साह, कोतवाल विपिन पंत, एसएसआई वीसी मासीवाल, एसआई मनोज नयाल, ईओ रोहिताश शर्मा, आन्दोलनकारी, केएल आर्य, पूरन मेहरा सहित अनेक राज्य आंदोलनकारी व लोग मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन नवीन पांडे ने किया।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी : अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज

हल्द्वानी। सडक़ हादसे में अधेड़ की मौत के मामले में परिजनों ने अज्ञात वाहन चालक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *