Breaking News
Home / Business / जौलीग्रांट में खुला डाकघर, क्षेत्रवासियों को मिलेगा लाभ

जौलीग्रांट में खुला डाकघर, क्षेत्रवासियों को मिलेगा लाभ

जौलीग्रांट पंचायत घर परिसर में खुला डाकघर

डोईवाला/ब्यूरो। आज बुधवार के दिन जौलीग्रांट पंचायत घर परिसर में मंदिर के पास शाखा डाकघर खोलने को डाक विभाग की टीम पहुंची।

डाक विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की टीम ने पंचायत घर परिसर में बने एक भवन में सामान आदि लगाने का कार्य किया। होली के बाद से डाक विभाग का ये शाखा डाकघर कार्य करना शुरू कर देगा। पंचायत घर परिसर में खोले गए इस नए डाकघर को बिचली जौली शाखा डाकघर के नाम से जाना जाएगा। जौलीग्रांट में शाखा डाकघर खुलने से क्षेत्रवासियों की लगभग तीन वर्ष पुरानी मांग पूरी हो जाएगी।

और अब क्षेत्रवासियों को डाक विभाग के कार्यो के लिए भानियावाला या हिमालयन अस्पताल परिसर के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। जौलीग्रांट में लगभग तीन वर्ष पूर्व तक शाखा डाकघर था। जिसे उच्चीकरण के नाम पर हिमालयन अस्पताल परिसर में शिफ्ट कर दिया गया था। जिससे हजारों लोगों की समस्याएं काफी बढ गई थी। खासकर बुजुर्गो और महिलाओं को कई किलोमीटर की दूरी तय करके अस्पताल परिसर में स्थित डाकघर जाना पड़ता था। लेकिन अब हजारों की आबादी को पंचायत घर परिसर में शाखा डाकघर का लाभ मिलेगा। होली के मौके पर डाकघर खुलने से लोगों में अधिक हर्ष का माहौल है। शाखा डाकघर खुलवाने में जौलीग्रांट के पूर्व प्रधान सागर मनवाल के प्रयास रंग लाए हैं। मनवाल ने कहा कि इससे सभी लोगों खासकर महिलाओं व बुजुर्गो को काफी लाभ मिलेगा। मौके पर डाक विभाग के एएसपी एसपीएस बिष्ट, मेल ओवरसियर रणवीर नेगी, पोस्ट मास्टर प्रेम सिंह बिष्ट, हुकुम सिंह सोलंकी, विनीत मनवाल, राजेंद्र नेगी, अमित मनवाल, घनश्याम शर्मा आदि उपस्थित रहे।

उत्तरांचलदीप अखबार और न्यूज पोर्टल का एक और मिशन पूरा

डोईवाला। जौलीग्रांट में शाखा डाकघर खुलवाने में क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों का विशेष योगदान रहा है। लेकिन उत्तरांचलदीप अखबार और न्यूज पोर्टल ने इस मामले में विशेष कवरेज करके इस मुद्दे को हमेशा ज्वलंत रखा। और डाक विभाग के बड़े अधिकारियों को इस समस्या से समय-समय पर अवगत कराया। तमाम मीडिया हाऊस से जुड़े लोगों ने हमेशा इस मुद्दे पर जानबूझकर निजी स्वार्थ के लिए आंखे बंद रखी हैं। जौलीग्रांट में डाकघर खुलने के साथ ही उत्तरांचलदीप अखबार और न्यूज पोर्टल का एक और मिशन कामयाब रहा है।

About madan lakhera

Check Also

फॉक्सवैगन इंडिया ने पुणे संयंत्र में बनाई दस लाखवीं कार

– सेलेब्रेटरी कार मेड-फॉर-इंडिया थी और फॉक्सवैगन एमियो को खूबसूरत कार्बन स्टील रंग में पेश …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *